देहरादून में करोडों की नकली दवाओं का जखीरा बरामद,यूपी का एक तस्कर गिरफ्तार,दो फरार,तलाश जारी..

देहरादून SOG (स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप) टीम ने एक ऐसे अंतरराज्यीय ड्रग तस्कर गिरोह का पर्दाफाश किया है जो नकली दवाओं को तैयार कर बड़े पैमाने पर बाजार में सप्लाई करते थे.लगभग 400 किलो स्क्रैप सॉल्ट सहित भारी मात्रा में 60 प्लास्टिक बैग कैप्सूल सेल्स  बरामद किए गए हैं.करोड़ों रुपये कीमत की इन नकली दवाओं के इस जखीरे के साथ यूपी लखीमपुर खीरी निवासी आशीष कुमार नाम तस्कर गिरफ्तार किया है. जबकि इस गिरोह में दो तस्कर अनिल कुमार और इरफान फरार चल रहे हैं,जिनकी पुलिस तलाश जारी है..

पुलिस खुलासे के अनुसार सेलाकुई इंडस्ट्रियल क्षेत्र में लगातार बहुतायत फार्मास्यूटिकल कंपनी होने के कारण सूचना प्राप्त हो रही थी कि कुछ व्यक्ति फार्मास्यूटिकल कंपनी स्क्रैप हो चुकी दवाओं को लेकर उनको कैप्सूल भरकर नकली कंपनी बनाकर दवाएं बेच रहे हैं. इसी सूचना के आधार पर एसओजी की टीम में मुखबिर तंत्र सक्रिय कर सहसपुर क्षेत्र के अंतर्गत शंकरपुर इलाके में एक गोदाम में छापा मारा जहां नकली दवाओं का जखीरा बरामद हुआ. मौके से 4 कुंतल नकली कच्चा माल स्क्रैप और 60 बैग प्लास्टिक में भरे कैप्सूल सेल्स बरामद हुए. जांच पड़ताल करने पर पता चला कि गिरोह के लोग अलग-अलग दवा कंपनियों के यहां से स्क्रैप पाउडर जिनमे हृदय रोग, टीवी, बुखार जैसी औषधियों का खराब माल खरीद कर नकली दबाव बना बाजार में सप्लाई कर आमजन के स्वास्थ्य जानलेवा खिलवाड़ करते हैं.

यह भी पढ़ें 👉  Watch Live: विजय सम्मान रैली देहरादून से राहुल गांधी का संबोधन (Live)
बाइट:दलीप सिंह कुँवर, DIG/SSP देहरादून

गिरोह के तीन लोगों का अलग-अलग काम: पुलिस

 पुलिस की गिरफ्त में आया उत्तर प्रदेश लखीमपुर निवासी आशीष कुमार का काम सेलाकुई स्थित फार्मासिस्ट कंपनियों के वेस्ट पाउडर को खरीदना था. इसके बाद फरार अनिल खालिद कैप्सूल सेल्स की व्यवस्था करता था फिर दोनों मिलकर रुड़की निवासी इरफान नाम के व्यक्ति को यह माल बेचते थे इसके उपरांत इरफान अपने नेटवर्क के जरिए नकली दवाओं को तैयार कर सप्लाई करता था.पुलिस दोनों फरार अभियुक्तों की तलाश कर रही है. ताकि उनसे जुड़े नेटवर्क के लोगों तक पहुँचा जा सके. पुलिस उन तमाम फार्मासिस्ट कंपनियों के बारे में भी जानकारी जुटा रही है जहां से यह खराब हुआ स्क्रैप पाउडर खरीदा जाता था.

यह भी पढ़ें 👉  टिहरी के राजस्व क्षेत्र छाम (कंडीसौड) में खुला रेगुलर पुलिस का नया थाना.. जनप्रतिनिधियों सहित स्थानीय आमजन ने पुलिस व्यवस्था में खुशी जाहिर की..

सेलाकुई में बंद हुई फार्मासिस्ट कंपनी से खरीदा स्क्रैप का पाउडर

पुलिस के अनुसार गिरफ्तार अभियुक्त आशीष कुमार से पूछताछ पर जानकारी हुई की अभियुक्त और उसका साथी अनिल कुमार दोनों यूपी लखीमपुर खीरी का निवासी है. दोनो एक दूसरे को विगत 3-4 वर्ष से जानते है. दोनो स्क्रैप का काम करते हैं.सेलाकुई में एल्डर फार्मास्यूटिकल नाम की एक कंपनी है जो बंद हो चुकी है,वहाँ से अभियुक आशीष सभी दवाइयों के पाउडर स्क्रैप में लेता हैं, जबकि कैप्सूल के कवर की व्यवस्था करना अभियुक्त अनिल की जिम्मेदारी होती थी. अनिल और आशीष यह पाउडर और कैप्सूल के कवर रुड़की हरिद्वार निवासी इरफान को बेच देते थे और इरफान ही यह पाउडर कैप्सूल में भरकर आगे बेचता था.

यह भी पढ़ें 👉  राजनीति: ''आप'' का जाप खत्म 29 पदाधिकारियों सहित कई कार्यकर्ताओं ने छोड़ी पार्टी ।भाजपा का दामन थामा।

गिरफ्तार अभियुक्त : आशीष कुमार पुत्र अनिल शर्मा निवासी ग्राम व पोस्ट छतौनियां जिला लखीमपुर खीरी उत्तर प्रदेश.

हाल निवासी मंदिर वाली गली शंकरपुर थाना सहसपुर जनपद देहरादून उम्र 26 वर्ष.

फरार अभियुक्त :

1- अनिल कुमार निवासी शिव नगर बस्ती सेलाकुई जनपद देहरादून.

2- इरफान निवासी रुड़की हरिद्वार.

बरामदगी :-

1- औषधीय सामग्री- 400 किलो

2- कैप्सूल सेल्स – 60 प्लास्टिक बैग

(

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें