उत्तराखंड साइबर पुलिस को मिली सफलता: देशभर में नेशनल इंश्योरेंस फ़्रॉड का मास्टरमाइंड नोएडा से गिरफ्तार. सैकड़ों लोगों को बनाया ठगी का शिकार..बीमा लोकपाल बनकर देहरादून निवासी से ठगे थे 30 लाख रुपये..

देहरादून: विजयदशमी के दिन उत्तराखंड STF के नेतृत्व में देहरादून साईबर क्राइम थाना पुलिस ने नेशनल इंश्योरेंस फ्रॉड के एक मास्टमाइन्ड को किया गिरफ्तार हैं.. देशभर में सैकड़ो लोगों के साथ करोड़ों रुपए ठगी करने वाले साइबर क्रिमिनल गौरव अग्रवाल पुत्र विपिन अग्रवाल को नोएडा के गोपाल अपार्टमेंट से गिरफ्तार किया गया.. अभियुक्त मूल रूप से उत्तरप्रदेश के जनपद बागपत थाना बड़ोत काशीराम पूरा कॉलोनी का रहने वाला हैं.. हालांकि वर्तमान में 28 वर्षीय गौरव नोएडा के  गोपाल अपार्टमेन्ट बेहरामपुर में रहता था.. साइबर पुलिस के अनुसार गिरफ्तार अभियुक्त गौरव अग्रवाल द्वारा खुद बीमालोकपाल बताकर देहरादून निवासी एक व्यक्ति से बंद पड़े इंश्योरेंस पॉलिसी को जारी रखने के नाम पर उनसे 30 लाख रुपए की धोखाधड़ी की.गिरफ्त में आया राष्ट्रीय स्तर का साइबर क्रिमिनल गौरव अग्रवाल ने अपने गिरोह के साथ मिलकर HDFC, BHARTI AXA, ADITYA BIRLA जैसे इंश्योरेंस पॉलिसी के नाम पर देश भर से सैकड़ो लोगों को करोडों रुपए की ठगी में अहम भूमिका निभाई है. अभियुक्त बन्द पड़ी बीमा पॉलिसी को जारी रखने के लिए IRDAI, NPCI और बीमालोकपाल से  बताकर धोखाधड़ी को अंजाम देता आया हैं..

यह भी पढ़ें 👉  अलर्ट: एक्शन मोड़ में दिखे देहरादून DM, कोविड- गाइडलाइन का पालन ना करने वाले दुकानदारों के खिलाफ की कार्यवाही. अधिकारियों को दिये कड़े निर्देश

लगभग दो साल से कर रहा था पीडित का बैंक एकाउंट खाली

देहरादून साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन के अनुसार कुछ समय पहले देहरादून के बल्लूपुर आशीर्वाद एंक्लेव निवासी उमेश चंद्र जोशी पुत्र देवी दत्त जोशी द्वारा एक शिकायत दर्ज कराई गई. शिकायतकर्ता के अनुसार कुछ वित्तीय कारणों से उनके द्वारा चलायी जा रही इंश्योरेंस पॉलिसियों को जारी रखने में समस्या आ गई थी.इसी बीच एक अज्ञात व्यक्ति द्वारा मोबाईल से कॉल कर स्वंय को बीमालोकपाल अधिकारी एवं एनपीसीआई अधिकारी बताते हुए उन्हें अवगत कराया गया कि पॉलिसी एजेंट द्वारा उनको गुमराह किया गया है..जबकि में जांच करने पर आपको रकम वापस की जानी है..ऐसे में कुछ औपचारिकताएं पूरी करने के बाद आपकी धनराशि वापस कर दी जाएगी.. औपचारिकताओं की इस प्रक्रिया के दौरान अज्ञात व्यक्तियों द्वारा अलग-अलग बैंक खातो में धोखाधड़ी से कुल 2927768/- जमा करवा ठगी गई.. शिकायतकर्ता की प्रार्थना पत्र पर प्रारंभिक जांच पड़ताल के बाद धारा 420/120बी IPC व 66 डी आईटीएक्ट  बनाम अज्ञात का अभियोग पंजीकृत किया गया..

यह भी पढ़ें 👉  दुःखत: मसूरी रोड़ पर खाई में गिरी थार..गाड़ी में सवार मर्चेंट नेवी कर्मी सहित 02 की मौत.. घायल 03 लोगों को रेस्क्यू कर अस्पताल भर्ती कराया गया...

 साइबर पुलिस के मुताबिक दर्ज मुकदमे के तहत अज्ञात अभियुक्तों के विरुद्ध कार्यवाही के लिए गठित टीम द्वारा विस्तृत तकनीकी जांच के बाद संदिग्ध अभियुक्त का बडौत बागपत (यूपी) व नोएडा से सम्बन्ध होना पाया गया.इसी जानकारी के आधार 23 अक्टूबर 2023 को गैर प्रान्त उ0प्र0 रवाना किया गया..  पुलिस टीम द्वारा अथक मेहनत एवं प्रयास से साक्ष्य एकत्रित करते हुये 30 लाख रुपये की ठगी करने वाले अभियुक्त गौरव अग्रवाल पुत्र विपिन अग्रवाल को गोपाल अपार्टमेन्ट बेहरामपुर नोएडा से गिरफ्तार किया गया.. अभियुक्त के कब्जे से घटना में प्रयुक्त 01 मोबाईल फोन INFINIX  कम्पनी का बरामद किया गया..

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड रणजी ट्रॉफी सेलेक्शन के नाम पर एक फिर बार धोखाधड़ी, 8 लाख ठगने वाले के खिलाफ मुकदमा दर्ज..

अपराध का तरीका:

गिरफ्तार अभियुक्त गौरव अग्रवाल द्वारा अपने अन्य साथियों से मिलकर जो व्यक्ति इंश्योरेंस पॉलिसी चलाने में असमर्थ हैं या पॉलिसी का प्रयोग नहीं कर रहे हैं, उन व्यक्तियों की निजी जानकारी प्राप्त कर उनको विभिन्न माध्यमों से सम्पर्क किया जाता हैं..इसके बाद पॉलिसी की धनराशि उनको वापस करने का लालच देकर व IRDAI, NPCI और बीमालोकपाल के नामों का प्रयोग करते हुए धोखाधड़ी अपराध कारित किया जाता है.. 

गिरफ्तार अभियुक्त का नामः

1. गौरव अग्रवाल पुत्र विपिन अग्रवाल निवासी 25/392 काशीरामपुरा कालोनी थाना बडोत  जनपद बागपत उ0प्र0 व हाल निवासी गोपाल अपार्टमेन्ट बेहरामपुर नोएडा उ0प्र0 उम्र- 28 वर्ष 

बरामदगीः

1.  एक अदद मोबाईल फोन INFINIX  कम्पनी

2. एक चैक बुक पीएनबी बैंक 

3. एक अदद आधार कार्ड – (अभियुक्त का)

4. पेन कार्ड – (अभियुक्त का) 

5. डेबिट कार्ड- 03 अदद विभिन्न बैंको के  

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें