SSP देहरादून की सख़्ती से भू-माफियाओं पर नकेल कसने का सिलसिला जारी….फर्जी रजिस्ट्री घोटालें में एक और माफ़िया को SIT ने किया गिरफ्तार…हरियाणा निवासी प्रोपर्टी माफ़िया अपने साथियों के साथ मिलकर फर्जी कागजात तैयार कर करता था जमीनों की धोखाधड़ी..

हुमायूं और समीर के साथ मिलकर अभियुक्त ने माजरा स्थित 10 बीघा किसी और की जमीन जालसाज़ी से अपने दादा के नाम करवाई थी: SIT

देहरादून: बहुचर्चित फर्जी रजिस्ट्री घोटालें मामले में दून पुलिस ने जालसाज़ भूमाफियाओं के गैंग में शामिल एक और अभियुक्त की गिरफ्तार किया है..SIT के अनुसार इस बार हरियाणा निवासी रवि कोहली नाम के एक ऐसे प्रॉपर्टी माफिया को गिरफ्तार किया है जो अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर जमीनों की फर्जी दस्तावेज तैयार कर धोखाधड़ी करता था.. पुलिस के अनुसार गिरफ्तार अभियुक्त रवि कोहली ने पूर्व में जेल भेजे गए हुमायूं परवेज और समीर कामयाब के साथ मिलकर माजरा स्थित एक 10 बीघा भूमि के फर्जी दस्तावेज तैयार कर जालसाज़ी से अपने दादा किशोरी लाल के नाम पर रजिस्ट्री कर दर्ज कराई. इस काम में हुमायूं परवेज़ ने 2018 में इसी फर्जी रजिस्ट्री को सहारनपुर में स्थित  रिकॉर्ड ऑफिस में दर्ज करवाया था..

देहरादून कोतवाली पुलिस के अनुसार देहरादून में जमीनो के कूटरचित विलेख आदि प्रपत्रों को तैयार कर रजिस्ट्रार कार्यालय मे सम्बन्धित रजिस्टरों में दर्ज कर उन जमीनों को फर्जी व्यक्तियों के नाम कर कई जमीनों को खरीद फरोख्त का फर्जीवाड़ा  प्रकाश में आने पर रजिस्ट्रार कार्यालय के सहायक महानिरीक्षक निबन्धन संदीप श्रीवास्तव द्वारा कोतवाली नगर देहरादून में कई मुकदमें पंजीकृत कराये जा चुके है.इसी क्रम में SIT टीम द्वारा लगातार अथक प्रयासों से साक्ष्य संकलन कर गहन विवेचना की जा रही है.इस केस में अब तक कई अभियुक्तों की गिरफ्तारी कर न्यायिक अभिरक्षा में उन्हें जिला कारागार भेजा जा चुका हैं. वही गिरफ्तारी के बाद कई अभियुक्तों से पूछताछ में धोखाधड़ी में शामिल अन्य अभियुक्तों के नाम भी प्रकाश में आये है. सहायक महानिरीक्षक निबन्धन संदीप श्रीवास्तव द्वारा माजरा स्थित लगभग 55 बीघा जमीन के फर्जी विलेख तैयार करने के सम्बन्ध में कोतवाली नगर देहरादून में मु0अ0स0 377/2023 धारा 420/467/468/471/120बी भादवि पंजीकृत कराया गया था.इस मुकदमें में पूर्व में अभियुक्त समीर कामयाब और हुमायूं परवेज को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है.इन्हीं अभियुक्तो से पूछताछ के आधार पर प्रकाश में आए एक अन्य अभियुक्त रवि कोहली पुत्र स्व-किशन लाल निवासी ग्राम कुल्हड़पुर पो0आ0 तहसील नारायण गढ़ जिला अंबाला हरियाणा को एसआईटी द्वारा विस्तृत पूछताछ के बाद विवेचक सब-इंस्पेक्टर कुलदीप पंत द्वारा दिनांक 15/12/23 को गिरफ्तार किया गया..

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग:राजधानी देहरादून के नए पुलिस कप्तान अजय सिंह ने पदभार ग्रहण किया...आते ही जनपद अधिकारियों के साथ क़ानून व्यवस्था को लेकर बैठक..

 गिरफ्तार अभियुक्त ने 2015 में रिटारमेंट के बाद देहरादून आकर शुरू किया जमीनों के फर्जीवाड़े का धंधा: पुलिस

  पुलिस SIT के अनुसार पूछताछ में अभियुक्त रवि कोहली द्वारा बताया गया कि वह पूर्व में अपने परिवार के साथ माजरा में रहता था. वर्ष 2015 में रिटायर मेंट के बाद वह काम के सिलसिले में वापस देहरादून आया और यहां आकर प्रोपर्टी का काम करने लगा. जमीन के सिलसिले में उसकी मुलाकात समीर कामयाब और हुमायु परवेज से हुई.जिनके साथ मिलकर अभियुक्त प्रॉपर्टी का काम करने लगा. इन लोगों द्वारा ऐसी जमीन की तलाश की जाती थी,जिसके मालिक का कोई पता न हो, या जिस पर दो पक्षों का विवाद चल रहा हो.इसके बाद ये लोग सहारनपुर जाकर उक्त जमीन के कागज चेक करते थे और वहा रिकॉड बदल देते थे..रवि कोहली ने पूछताछ में बताया कि अभियुक्त हुमायु परवेज की वहा अच्छी जान पहचान होने के कारण वह पैसे देकर रिकॉर्ड बदलवा देता था.इन अभी अभियुक्तों द्वारा माजरा स्थित एक प्रॉपर्टी,जो लगभग 10 बीघा के करीब थी.और उसके मालिक साधु सिंह की मृत्यु के बाद उक्त संपत्ति पर साधू सिंह की पत्नी निरंजन कौर व पुत्री शीतल मंद के बीच सिविल कोर्ट में विवाद चल रहा था.ऐसे में अभियुक्तों द्वारा उक्त संपत्ति के फर्जी कागज अभियुक्त रवि कोहली के दादा पिशोरी लाल के नाम पर करने की योजना बनाई गई. वर्ष 2018 में समीर कामयाब और हुमायु परवेज द्वारा सहारनपुर से एक पुराना रिकॉर्ड लेकर एक फर्जी बैनामा सरदार साधू सिंह से अभियुक्त के दादा पिशोरी लाल के नाम करवाया गया.वही अभियुक्त हुमायु परवेज ने सहारनपुर जाकर उसे रिकॉर्ड पर लगा दिया.इसके पश्चात अभियुक्तों द्वारा नकल दस्तावेजों के माध्यम से सम्पति की मालिक शीतल मंड को नोटिस भी भिजवाया गया. सभी अभियुक्तों ने योजना के मुताबिक उक्त संपत्ति की पावर अटॉर्नी समीर कामयाब के नाम करके उक्त जमीन को बेचने की फिराक में थे.लेकिन समीर कामयाब और हुमायु परवेज के फर्जी रजिस्ट्री मामले में जेल चले जाने पर शीतल मंड द्वारा पटेल नगर थाने में अभियुक्तो के विरुद्ध एफआईआर दर्ज करा दी गई..हालांकि इसमें अभियुक्त द्वारा कोर्ट से अग्रिम जमानत ले ली गयी थी..

यह भी पढ़ें 👉  Good News: देहरादून स्मार्ट सिटी मिशन में बेहतरीन सड़क निर्माण के साथ-साथ शहर को आकर्षक बनाने का कार्य जारी..पर्यटकों के लिए मनमोहक और देहरादून वासियों के लिए सुविधाओं युक्त शहर बनाना हमारी प्राथमिकता: स्मार्ट सिटी CEO/DM दून

गिरफ्तार अभियुक्त नाम पता..

रवि कोहली पुत्र स्व- किशन लाल निवासी ग्राम कुल्हड़पुर पो0आ0 तहसील नारायण गढ़ जिला अंबाला हरियाणा..

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें