सेलाकुई बस्ती में आगजनी घटना पर अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज..लोग जिसे मान रहे थे दुर्घटना,वो निकली सोची समझी आगजनी की घटना..एसएसपी अजय सिंह की पैनी नजर अपराधियों पर पड़ी भारी….सीसीटीवी में कैद आग लगाने की घटना..

जांच के दौरान घटनास्थल से कार सवार एक व्यक्ति की झोपडी में आग लगाने की पुलिस को प्राप्त हुई थी सीसीटीवी फुटेज..

02 वर्ष के अंदर 02 बार एक ही स्थान पर झुग्गी-झोपडियों में आग लगने की घटना पर संधिक्तता प्रतीत होने पर एसएसपी देहरादून ने विस्तृत जांच के दिये थे आदेश..

पुलिस की प्रारम्भिक जांच में हुआ खुलासा.. सेलाकुई क्षेत्रान्तर्गत सुन्दरवन में झुग्गी झोपडियों में जान- बूझकर लगाई गयी थी आग..

कार के घटना स्थल से निकलते ही उसके पास स्थित झोपडी ने पकडी थी आग,जिसने आस- पास की झुग्गी झोपड़ियों को भी ले लिया था अपनी चपेट में… 

जमीनी विवाद या अनाधिकृत कब्जा को खाली कराने की हो सकती  है साजिश..

देहरादून:- थाना सेलाकुई पुलिस के अनुसार अनुसार 05 मई 2024 को सेलाकुई क्षेत्रान्तर्गत भाऊवाला सुन्दरवन के पास झुग्गी झोपडियों में आग लगने की घटना घटित हुई थी.इस आग की चपेट में आने से लगभग 50 से 55 झुग्गी झोपडियां पूर्णत: जलकर राख हो गयी थी. आगे की चपेट में आयी सभी झुग्गी- झोपडियां सुन्दरवन क्षेत्र में एक प्राईवेट प्लाट पर बनी हुई थीं,जहां 02 वर्ष पूर्व वर्ष 2022 में भी इसी प्रकार आग लगने की घटना घटित हुई थी.इस घटना में उस वक्त लगभग 40 से 45  झुग्गी झोपडियां जल गई थी  02 वर्ष के अन्तराल में एक ही स्थान पर घटित उक्त दोनों घटनाओं पर संदिग्धता प्रतीत होने पर एसएसपी देहरादून द्वारा आग लगने के कारणों से जुडे सभी सम्भावित पहलुओं पर विस्तृत जांच के आदेश दिये गये.इसी क्रम में  पुलिस द्वारा घटना स्थल व आस-पास के क्षेत्र में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेजों को चैक करने पर पुलिस टीम को आग लगने की घटना से पूर्व झुग्गी झोपडियों के आस-पास एक संदिग्ध कार घूमती हुई दिखाई दी,जो थोडे-थोडे अन्तराल पर 02 से 03 बार घटना स्थल के आस-पास आकर रूकी थी. इस दौरान कार की अगली सीट पर बैठे व्यक्ति द्वारा कार से उतरकर पास की झोपडी के एक किनारे पर आग लगाये जाने की फुटेज पुलिस को प्राप्त हुए.इसके बाद उसी कार के घटना स्थल से निकलते ही कार के पास बनी एक झोपडी ने अचानक आग पकड़ ली. इसके बाद आस-पास की अन्य झोपडियों को भी आग ने अपनी चपेट में ले लिया. प्रारंभिक जांच में पाया की दया की आग की घटना में जमीनी विवाद या अनाधिकृत कब्जा को खाली कराने भी हो सकता हैं. ऐसे में सोची साजिश साजिश व प्राप्त सीसीटीवी फुटेज के आधार पर एसएसपी देहरादून द्वारा तत्काल संदिग्ध अभियुक्तों के खिलाफ मुक़दमा दर्ज पंजीकृत करने के निर्देश दिये गये.इसी आदेश के तहत थाना सेलाकुई पुलिस द्वारा अज्ञात अभियुक्तों के खिलाफ धारा: 436 IPC के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया हैं.

यह भी पढ़ें 👉  सराहनीय: PM मोदी के स्मार्ट पुलिसिंग विज़न को बल देती उत्तराखंड पुलिस.. एसएसपी उधमसिंह नगर ने रुद्रपुर में किया भव्य मॉर्डन हाईटेक फैब्रिकेटेड बैरिक व मॉर्डन मैस (Kitchen) का उद्घाटन..

एसएसपी ने स्वयं संज्ञान लेते हुए अज्ञात के खिलाफ दर्ज कराया मुकदमा..

जानकारी के मुताबिक इस आगजनी की घटना में प्रभावित हुए कोई भी पीड़ित लोग पुलिस को तहरीर देने के लिए राजी नहीं थे. लेकिन सीसीटीवी फुटेज में अज्ञात द्वारा आग लगाने की जांच पड़ताल के बाद एसएसपी देहरादून ने स्वयं मामले का संज्ञान लेते हुए सेलाकुई SO को निर्देश देते हुए मुकदमा दर्ज कराया हैं . ताकि इस तरह की कोई भी अप्रिय घटना भविष्य में दोहराई ना जाए.

यह भी पढ़ें 👉  रायपुर पुलिस के अभियान ने अपनों से बिछड़े नौनिहालों को मिला-चेहरे में लौटाई मुस्कान.. परिजनों और महाराष्ट्र पुलिस ने दून पुलिस का जताया आभार..
सीसीटीवी फुटेज..

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें