सावधान: कही आपके नाम वाले फ़र्जी आधार कार्ड से बैंक लोन तो नहीं..दून पुलिस ने उत्तराखंड में सक्रिय नटवरलाल को दबोचा.. अलग-अलग नाम वाले आधार कार्ड से लाखों के कई बैंक लोन..

देहरादून: सावधान हो जाएं दून पुलिस ने एक ऐसे नटवरलाल को थाना डोईवाला इलाकें से गिरफ्तार किया है जो उत्तराखंड में पहाड़ी जनपदों से लेकर मैदानी इलाकों तक फर्जी आधार कार्ड जैसे डॉक्युमेंट आईडी के माध्यम अलग-अलग बैंकों से कई लोन लेकर अपना गोरखधंधा चला रहा था. गिरफ्तार अभियुक्त के कब्जे से अलग-अलग नाम के 10 जाली आधार कार्ड,03 पेन कार्ड,04 मार्कशीट,04 ड्राइविंग लाइसेंस,01 पासपोर्ट,02 ATM कार्ड जैसे दस्तावेज बरामद हुए हैं.पुलिस जांच-पड़ताल में पता चला कि अभियुक्त ललित दुग्ताल उर्फ आदित्य अलग-अलग नाम के आधार कार्ड जैसे फ़र्जी दस्तावेजों के आधार पर अब तक 08 बैंक लोन ले चुका हैं.आरोपी फ़र्जी डॉक्युमेंट्स तैयार कर अब तक टू- व्हीलर, फोर व्हीलर,महंगे मोबाइल सहित जैसे लाखों के कई लोन ले चुका हैं. पुलिस ने अनुसार बैंक लोन के जरिये लिए गए कीमती सामान को कम दामों में बेचकर आरोपी लम्बे से फर्जीवाड़ा कर धोखाधड़ी कर रहा था.पुलिस को आरोपी के कब्जे से बैंक फाइनेंस में ली गई  लग्जरी कार i20 कार,बुलेट जैसी 03 महंगी मोटरसाइकिल भी बरामद हुई हैं. पुलिस के ख़ुलासे अनुसार प्रारंभिक जांच पडताल में ऐसा पता चला है कि गिरफ्तार अभियुक्त किसी ऐसे बड़े रैकेट से मिलकर बैंकों से धोखाधड़ी कर रहा है जो जाली दस्तावेज तैयार कर बैंकों से धोखाधड़ी कर रहे है. ऐसे में जल्द अभियुक्त की पुलिस कस्टडी रिमांड (PCR) लेकर विस्तृत पूछताछ के जरिए उसके नेटवर्क को ध्वस्त करने का प्रयास किया जाएगा.

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी दंगा: नैनीताल पुलिस को मिली कामयाबी..दंगे के मास्टरमाइंड अब्दुल के फ़रार पुत्र मोईद दिल्ली से गिरफ्तार.. अब तक नामज़द कुल 84 उपद्रवियों को भेजा सलाखों के पीछे..
बाइट:कमलेश उपाध्याय, SP देहात, देहरादून..

 गिरफ्तार अभियुक्त:

ललित दुग्ताल उर्फ आदित्य पुत्र स्व- भगत सिह निवासी- ग्राम निगाल पानी दुग्तु थाना व तहसील धारचूला जिला पिथौरागढ उम्र – 29 वर्ष हाल पता- शहीद द्वार अठूरवाला जौलीग्रान्ट डोईवाला देहरादून

फिलहाल पुलिस मूल रूप से पिथौरागढ़ इलाके के रहने वाले इस नटवरलाल अभियुक्त ललित दुग्ताल उर्फ आदित्य से पूछताछ कर इससे जुड़े नेटवर्क के लोगों के बारे में जानकारी एकत्र कर आगे की कार्रवाई में जुटी है. इसमें सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि अलग-अलग नाम से कैसे फर्जी आधार कार्ड बनाए गए और फिर जाली डॉक्यूमेंट के आधार पर कैसे विभिन्न बैंकों से लोन पास हुए.ये सारे विषय जांच के दायरे में है.

यह भी पढ़ें 👉  मसूरी सौन्दर्यीकरण का कार्य लेटलतीफी से बना सिरदर्द,मुख्य सचिव ने निरक्षण कर 15 दिनों में निर्माण कार्य पूरा करने के दिए सख्त निर्देश.. कार्य पूरा न होने तक मसूरी में ही कैंप करेंगे अधिकारी..

आर्थिक अपराध करने वाले लोगों को चिन्हित कर कसा जाएगा सख्त शिकंजा :SSP

देहरादून एसएसपी अजय सिंह ने कहा कि फर्जी आधार कार्ड व अन्य पहचान पत्रों के माध्यम से अभियुक्त द्वारा विभिन्न बैंकों से लोन लेकर लाखो रुपये की धोखाधड़ी की गई है. पुलिस टीम द्वारा अभियुक्त को गिरफ्तार कर अच्छा वर्कआउट किया गया है. ऐसे सभी व्यक्तियों,जिनके द्वारा आर्थिक अपराधों को बढ़ावा देते हुए लोगों को आर्थिक हानि पहुंचाई जा रही है.उन सभी अपराधियों को चिन्हित कर जल्द ही कानून के शिकंजे में लिया जाएगा.

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग: ऋषभ पंत बने उत्तराखंड के ब्रांड एंबेसडर. CM धामी ने ट्वीटर पर दी जानकारी।

एसपी देहात कमलेश उपाध्याय ने जानकारी देते हुए बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त के खिलाफ टिहरी गढ़वाल में भी धोखाधड़ी के मुकदमे दर्ज हैं.ऐसे में अभियुक्त टिहरी पुलिस ने अभियुक्त गिरफ्तारी को लेकर ₹5000 का इनाम घोषित किया था. गिरफ्तार अभियुक्त फर्जी प्रमाण पत्र के आधार पर होटल मैनेजमेंट का कोर्स भी कर चुका है.वही बैंक लोन के जरिए हल्द्वानी में मोबाइल शॉप भी चल चुका है.

बरामद वाहन:

(1) आई-20 कार: यू0के0-09-बी-8691
(2) बुलेट मोटरसाइकिल 350 क्लासिक रंग काला: यू0के0-14-जी-8367 
(3) मोटरसाइकिल आर-15 यामाहा यू0के0-14-एच-0598
(4) बुलेट मोटर साईकिल यू0के0-07-एफडी-8971

बरामद फर्जी डॉक्युमेंट

01- आधार कार्ड- 10 ( आदित्य सिंह, आदित्य उपाध्याय, यशवंत सिंह, ललित जोशी, रक्षित द्विवेदी के नाम के )
02- पैन कार्ड- 03
03- पासपोर्ट- 01
04- वोटर आईडी कार्ड- 01
05- ड्राईविंग लाइसेन्स- 04
06- एटीएम कार्ड- 02 
07-  मार्कशीट- 04

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें