देहरादून साइबर थाने को मिली बड़ी सफलता…तकरीबन 15 करोड़ 20 लाख से अधिक साइबर धोखाधड़ी में एक और राष्ट्रीय घोटालें का पर्दाफाश..गिरोह का हवाला ऑपरेटर गुजरात से गिरफ्तार..अभियुक्त के खिलाफ़ देशभर से 102 साइबर क्राइम की शिकायतें दर्ज..अभियुक्त की तलाश में 17 राज्यों की पुलिस.. 

देहरादून साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन ने एक और ऐसे राष्ट्रीय साइबर घोटालें का पर्दाफाश किया है,जिसके द्वारा तकरीबन 15 करोड़ 20 लाख रुपए की धोखाधड़ी की गई. इस केस में देहरादून साइबर पुलिस ने गिरोह के हवाला ऑपरेटर को गुजरात के अहमदाबाद से गिरफ्तार किया है.गिरफ्त में आए अभियुक्त हण्टर इरीच के खिलाफ पूरे देश भर में 102 साइबर क्राइम से जुड़ी शिकायतें  दर्ज हैं.. इतना ही नहीं गिरफ्तार किए गए अभियुक्त को 17 राज्यों की पुलिस तलाश कर रही थी..

 देहरादून साईबर थाना पुलिस के अनुसार एक प्रकरण में साइबर क्राईम पुलिस स्टेशन को एक  प्रार्थना पत्र प्राप्त हुआ,जिसमें देहरादून निवासी शिकायतकर्ता के साथ अज्ञात व्यक्ति द्वारा व्ह्टसएप के माध्यम से सम्पर्क कर स्वंय को 99 Acres & L T Constrution CO. के कर्मचारी / अधिकारी बताकर पार्ट टाईम जॉब के नाम पर टेलीग्राम ग्रुप में जोडकर आगे के कार्य का टास्क देकर सभी टेलीग्राम हैंडल पर निवेश पर 30-40% के लाभ का आश्वासन देकर अलग-अलग तिथियों में भिन्न-भिन्न लेन देन के माध्यम कुल 34,08,575.62* (चौतीस लाख आठ हजार पाँच सौ पिचहत्तर रुपये बासठ) रुपये की धोखाधड़ी की गई.इस सम्बन्ध में शिकायत के आधार पर साइबर क्राईम पुलिस स्टेशन देहरादून पर धारा 420,120 बी भादवि व 66(डी) आईटी एक्ट बनाम अज्ञात पर मुक़दमा पंजीकृत किया गया…दर्ज मुकदमें में अभियुक्तों के विरुद्ध कार्यवाही के लिए गठित टीम द्वारा घटना में तकनीकी विश्लेषण से प्रकाश में आये अभियुक्त हण्टर इरीच पुत्र पूजवेल्ट निवासी 9बी राजीवनगर, नारोल कोर्ट की पिछे, नारोल अहमदाबाद गुजरात उम्र 22 वर्ष को गुजरात से गिरफ्तार किया गया.. अभियुक्त हण्टर इरीच के विरुद्ध देश भर में 102 शिकायतें दर्ज है. जबकि अभियुक्त के खाते से विगत तीन माह में लगभग 15 करोड़ 20 लाख से ज्यादा का ट्रांजैक्शन किया गया है.. 

यह भी पढ़ें 👉  राज्य गठन के उपरांत पहली बार "जेल दिवस" कार्यक्रम आयोजन,कैदियों को मिला प्रतिभा दिखाने का अवसर... 

अपराध का तरीकाः

देहरादून साइबर क्राइम पुलिस की जांच पड़ताल में जानकारी मिली कि देशभर में ठगी का जाल फैलाने वाले गैंग के सदस्यों द्वारा फर्जी वैब साईट तैयार कर स्वंय को 99 Acres & L T Constrution CO. के कर्मचारी / अधिकारी बताते हुये ऑनलाईन जॉब कर लाभ कमाने की बात कहते हुए टेलीग्राम ग्रुप में जोड़कर भिन्न भिन्न हैण्डल के नाम के लिंक भेजकर निवेश कर 30 से 40 प्रतिशत का लाभ कमाने आदि सम्बन्धी टास्क दिया जाता हैं. और फिर इसी काम मोटा लाभ कमाने के नाम पर धोखाधडी की जाती हैं. धोखाधडी से प्राप्त धनराशि को अभियुक्त विभिन्न बैक खातो में प्राप्त कर उक्त धनराशि का प्रयोग करते है.गैंग के अभियुक्तों द्वारा इस कार्य के लिए फर्जी सिम आईडी कार्ड का प्रयोग कर अपराध कारित किया जाता है.. अभियुक्त द्वारा विभिन्न मोबाईल हैण्डसेट, सिम कार्ड व फर्जी बैंक खातों का प्रयोग किया जाता है.वही कुछ पीडितों से एक मोबाईल फोन, सिम कार्ड व बैंक खाते का प्रयोग कर धोखाधड़ी करने के बाद इनके द्वारा नये सिम, मोबाईल हैण्डसैट व बैंक खातों का प्रयोग किया जाता है..साइबर पुलिस की जांच पड़ताल में इस बात की भी जानकारी सामने आएगी गिरफ्तार हवाला ऑपरेटर द्वारा अपराध को अंजाम देने के लिए एक फर्जी SHELL कंपनी शाह इंटरप्राइज के नाम से खोली गई जिसको इसने मोहाली पंजाब में खोला गया.  इसी Shell कंपनी के नाम पर इसके द्वारा विभिन्न बैंक खाते खुलवाए गए.जिससे उसके अलावा और अन्य साथियों द्वारा ही अपराध में ठगी के करोड़ों रुपए की ट्रांजैक्शन (लेनदेन) को अलग-अलग कंपनी कंपनियों के विभिन्न करंट अकाउंट में भेज सके. गिरफ्तार अभियुक्त से लगभग 14 विभिन्न बैंक खातों की के दस्तावेज भी प्राप्त हुए हैं.इसके साथ ही देश भर में न्यूनतम 102 साइबर शिकायतें प्रकाश में आई है.. इन शिकायतों का विश्लेषण करने से संबंधित  आरोपी एवं उसके साथियों द्वारा देश भर के लगभग 17 राज्यों में साइबर ठगी को अंजाम दिया गया है. इस पूरे संगठित गिरोह द्वारा न्यूनतम 15 करोड़ से भी अधिक की लेने संदिग्ध लेनदेन प्रकाश में आ गई है..

यह भी पढ़ें 👉  STF का शिकंजा:50 हज़ार का इनामी फ़्रॉड भूमाफिया गिरफ्तार,2021 से चल रहा था फ़रार..

17 राज्यों की निम्न सूची ..

गिरफ्तार अभियुक्त के खिलाफ देशभर में 102 से अधिक साइबर शिकायतें दर्ज हैं. इसी के चलते अभियुक्त को 17 राज्यों के पुलिस तलाश कर रही हैं..इसमें आंध्र प्रदेश,अरुणाचल प्रदेश, चंडीगढ़ ,छत्तीसगढ़, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, कर्नाटक, केरला, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र ,उड़ीसा राजस्थान ,तमिलनाडु ,तेलंगाना उत्तर प्रदेश व पश्चिम बंगाल मुख्य तौर पर है..

यह भी पढ़ें 👉  आर्थिक तंगी के चलते मां ने 2 बच्चों समेत की खुदकुशी.. घर के अंदर मिले तीनों के शव..पुलिस जांच पड़ताल में जुटी..

गिरफ्तार अभियुक्तः-

1- हण्टर इरीच पुत्र पूजवेल्ट निवासी 9बी राजीवनगर, नारोल कोर्ट की पिछे, नारोल अहमदाबाद गुजरात उम्र 22 वर्ष – उम्र 22 वर्ष..

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें