ब्रेकिंग: उत्तराखंड में CM को लेकर सस्पेंस बरकरार. अभी होली तक करना होगा इंतज़ार..…

देहरादून

उत्तराखंड में मुख्यमंत्री के नाम को लेकर भाजपा हाईकमान का फैसला चौंकाने वाला हो सकता है।नए मुख्यमंत्री के नाम पर 20 मार्च तक मुहर लग सकती है। भाजपा प्रदेश संगठन की तरफ से नव निर्वाचित विधायकों को होली के बाद देहरादून में उपस्थित रहने के निर्देश दिए गए हैं।वर्ष 2017 से अब तक तीन बार मुख्यमंत्रियों के चयन में हाईकमान कुछ अप्रत्याशित फैसले ले चुका है। चौथी विधानसभा के दौरान भाजपा ने राज्य को तीन-तीन मुख्यमंत्री दिए। लेकिन मुख्यमंत्री के ऐलान में कई बार शीर्ष नेतृत्व ने पार्टी कार्यकर्ताओं को चौंकाया है। उत्तराखंड के उत्तराखंड में 10 मार्च को बहुमत मिलने के बावजूद भाजपा हाईकमान ने नेता सदन के चयन की प्रक्रिया शुरू नहीं की है। समझा जा रहा है कि 17 मार्च तक होलाष्टक होना इसका मुख्य कारण है।भाजपा उत्तराखंड चुनाव प्रभारी और केंद्रीय मंत्री प्रहलाद जोशी और राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने दिल्ली में हाईकमान को अपनी रिपोर्ट दे दी है। नेता सदन के चयन में देरी से मुख्यमंत्री दौड़ में शामिल चेहरों की धड़कनें बढ़ी हुई हैं। सतपाल महाराज, सुबोध उनियाल समेत कई नेता दिल्ली पहुंच चुके हैं। जबकि, कुछ नेता प्रदेश में ही विधायकों की घेराबंदी में जुटे हुए हैं। पूर्व मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के लिए विधायकों की ओर से सीट ऑफर करने और उनसे मुलाकात का सिलसिला तेज हो गया है।विधानसभा चुनाव 2022 में सीएम पुष्कर सिंह धामी की हार के बाद भाजपा कई विकल्प पर विचार कर रही है।ऐसे में एक बार फिर से पार्टी नेता हाईकमान के फैसले का इंतजार कर रहे हैं। माना जा रहा है कि इस बार भी पहले की तरह ही मुख्यमंत्री कोई नया चेहरा सामने आ सकता है।

यह भी पढ़ें 👉  सावधान: कोरोना को लेकर सतर्क हुआ स्वास्थ्य विभाग, उत्तराखंड आने वालों की सीमाओं पर कोविड़ जाँच के निर्देश..

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें