दिल्ली का अन्तर्राज्यीय ATM चोर गिरोह दून पुलिस की गिरफ्त में..बड़े ही शातिराना तकनीक से उड़ाते थे रुपये..लाखों का Cash,ATM Master Key सहित लग्ज़री गाड़ी बरामद..मास्टरमाइंड-ATM Cash डिपॉजिट कंपनी का पूर्व कर्मचारी..

देहरादून: उत्तर भारत के कई राज्यों में बड़े ही शातिराना तरीके से बैंक एटीएम में Master Key लगा लाखों रुपये चुराने वाले एक अन्तर्राज्यीय गिरोह को देहरादून पुलिस ने गिरफ्तार किया है.शिकंजे में आए 04 अभियुक्तों के कब्जे से  लाखों रुपए की नगदी,ATM की मास्टर (नक़ली)चाबियां,लग्जरी गाड़ी,फाइबर की काली पट्टियां,एटीएम कार्ड और अन्य सामान बरामद हुए हैं.गिरफ्तार किए गए अपराधियों में से 02 अभियुक्त मूल रूप से बिहार के रहने वाले हैं.जबकि मास्टरमाइंड सहित 02 व्यक्ति दिल्ली के रहने वाले बताए जा रहे हैं. हालांकि अभी इस गिरह में 02 अभियुक्त फ़रार बताए जा रहे हैं जिनकी तलाश जारी हैं. पुलिस ख़ुलासे के अनुसार उत्तराखण्ड में घूमने के बहाने आकर इस गिरोह द्वारा पहले एकान्त में स्थित उस बैंक ATM में जाकर रैकी की जाती हैं,जहाँ सुरक्षा गार्ड नहीं होता.इसके पश्चात मौका देखकर ATM मशीन में रूपये निकासी वाले जगह पर 9 से10 इंच लम्बी और 2 इंच चौडी काले रंग की फाईबर की पट्टी लगा देते है.ताकि जब कोई व्यक्ति एटीएम से Cash निकाले तो रुपये बाहर आने के बजाए फ़ाइबर वाली पट्टी के कारण ATM में ही फंस जाते हैं.वही दौरान गैंग का एक व्यक्ति ATM में अन्दर बने केबिन मे पहले से ही छुपा रहता है.और जब रूपये निकालने वाला व्यक्ति ATM से बाहर जाता हैं,तभी गए गैंग का मास्टरमाइंड अमित अपने पास उपलब्ध मास्टर-की(नकली चॉबी) से ATMखोलकर ATM मे फंसे रूपये निकाल लेता है.इसके बाद वह फिर से शातिर चोर फाइबर वाली काली पट्टी को ATM मशीन के रूपये निकासी वाले स्थान पर लगा देता है.इस पूरे कारनामें के दौरान गिरोह के शेष लोग ATM के बाहर रहकर आने-जाने वालो पर नजर रखते है.दून पुलिस की गिरफ्त में आया गिरोह दिल्ली, हरियाणा,राजस्थान, बिहार उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड जैसे राज्यों में इस तरह की अनगिनत घटनाओं को अंजाम दे चुका हैं.

यह भी पढ़ें 👉  अपराध: पॉलिसी के नाम पर ठगी करने वाले दो युवकों को, उत्तराखंडSTF ने दिल्ली से किया गिरफ्तार,
बाइट-दलीप सिंह कुँवर,DIG/SSP देहरादून..

गैंग का मास्टरमाइंड एटीएम मशीन का जानकार

पुलिस ख़ुलासे के अनुसार इस पूरे गिरोह का दसवीं पास मास्टरमाइंड अमित कुमार पूर्व में  बैंकों के एटीएम में कैश जमा करने वाले आउटसोर्सिंग कंपनी कम कर चुका है.जिसके चलते उसे एटीएम मशीन खोलने और बंद करने खास तजुर्बा हैं. नौकरी छोड़ने के बाद अमित ने योजनाबद्ध तरीके से एक गिरोह बनाकर अलग-अलग राज्यों में बैंक एटीएम मशीनों की मास्टर (नकली) चाबियां तैयार कर शातिराना तरीक़े से एटीएम चोरी की घटनाओं को अंजाम दे रहा था.जांच पड़ताल में इस बात की भी जानकारी सामने आयी कि यह गिरोह अक्सर शनिवार और रविवार के दिन में ही बैंक एटीएम में इस तरह की चोरी की घटना को अंजाम देता है.ताकि ATM से रुपए निकालने के दौरान Cash फंसने और बैलेंस कटने की जानकारी खाता धारक छुट्टी के दिन बैंक को न दे सकें.

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून में बड़ी डकैती की फ़िराक में आये उत्तर प्रदेश गैंग के 11 बदमाश गिरफ्तार..समय रहते दून पुलिस ने दिखाई मुस्तेदी..

नाम/पता गिरफ्तार अभियुक्तगण – 

1-अमित कुमार (मास्टरमाइंड)पुत्र राज गिरी सिहं निवासी RZR 110 चाणक्य पैलेस पार्ट 2 थाना डाबडी जिला जनकपुरी दिल्ली-59  मूल निवासी ग्राम व पोस्ट महुई, छपरा बिहार.

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग: उत्तराखंड में अब सेना के कई जवान आये कोरोना की चपेट मे. करोना की दस्तक से हड़कंप, स्वास्थ्य विभाग ने शुरू की सेंपलिंग। जवानों को किया क्वॉरेंटाइन..

2-सुनील कुमार झा पुत्र नरेश चन्द्र निवासी म0न0 247 गली न0 22 श्यामबिहार कालोनी थाना छावला जिला नजफगढ़, दिल्ली मूल निवासी ग्राम बनिडोल, मधुबनी बिहार 

3- शिवम सिहं पुत्र पंकज सिहं निवासी छ. 104 भगवती गार्डन एक्सटैंशन गली न0 15 उत्तम नगर थाना उत्तम नगर नई दिल्ली .

4- हनी पुत्र महिपाल सिहं निवासी द्धारिका मोड 55 फुटा नवादा हाउसिगं काम्पलेक्स त् 3 10 3 फ्लोर-5 थाना मोहनगढ, जिला मोहनगढ दिल्ली.

फरार अभियुक्त

01-नवाब निवासी दिल्ली  

02-सौरभ निवासी दिल्ली  

 बरामदगी विवरण

01-नगद 2 लाख 70 हजार रूपये  

02-मास्टर-की(नकली चॉबी)- 04  

03-ATM कार्ड 5  

04-घटना मे प्रयुक्त काले रंग की फाईबर पट्टी- 05  

05-घटना मे प्रयुक्त हुंडई एसेन्ट कार न0- DL4 CAP 0171

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें