ज़मीन का कब्ज़ा खाली कराने की मंशा से दर्जनों झुग्गियों में आग लगने वाले अभियुक्त को दून पुलिस दबोचा …दूसरे की तलाश जारी…

गिरफ्तार अभियुक्त प्लॉट के मूल मालिक के हैं परिचित,जिसके द्वारा झुग्गी झोपडियों में निवासरत लोगों से बातचीत कर सैटलमेंट करने के लिये भेजा था अभियुक्तों को..

सेलाकुई क्षेत्रान्तर्गत सुन्दरवन में स्थित झुग्गी झोपडियों में आगजनी की घटना को अजांम देने वाले 01 अभियुक्त को दून पुलिस ने किया गिरफ्तार.

प्लॉट खाली कराने के लिये अभियुक्त द्वारा अपने साथी के साथ मिलकर दिया गया था आगजनी की घटना को अजांम..

अभियुक्तों द्वारा पूर्व में झुग्गी झोपडियों में निवासरत कुछ लोगो को पैसा देकर खाली करायी गई थी झोपडियां..

सैटलमेंट का पैसा हडपने के लिये अभियुक्तों द्वारा दिया गया था आगजनी की घटना को अजांम..

आगजनी की घटना का संज्ञान लेकर पूर्व में एसएसपी देहरादून द्वारा दिये गये थे घटना की विस्तृत जांच के निर्देश..

प्रारम्भिक जांच में पुलिस को अभियुक्तो द्वारा जानबुझकर बस्ती में आग लगाने की मिली थी सीसीटीवी फुटेज..घटना के सम्बंध में सेलाकुई थाने में दर्ज किया गया था मुक़दमा..

देहरादून: थाना सेलाकुई के अंतर्गत भाऊवाला सुंदरवन के पास बीते 05 मई 2014 को दर्जनों झुग्गी- झोपड़ियां में आग लगने वाले अभियुक्त को आखिकार पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.प्रारंभिक जांच के अनुसार गिरफ्तार अभियुक्त जमीन के मालिक का परिचित है.ऐसे में उसने जमीन के मालिक से सेटलमेंट पैसे हड़प कर प्लॉट को खाली करने के मकसद से बीते 05 मई को खुद ही झुग्गी- झोपड़ियां में आग लगा दी.. पुलिस अब गिरफ्तार अभियुक्त के अन्य फ़रार साथी के बारे में जानकारी एकत्र कर उसकी तलाश में जुटी हैं.

यह भी पढ़ें 👉  वसंत विहार डकैती-लूट प्रकरण में एक और अभियुक्त को दून पुलिस ने किया गिरफ्तार..लूट की योजना विफल होने की सूरत में बदमाशों के बैकअप प्लॉन में शामिल था गिरफ्तार अभियुक्त..

प्लॉट खाली कराने के सैटलमेंट वाले रुपयों को हड़प आग लगा दी..

पुलिस के अनुसार पूछताछ में गिरफ्तार अभियुक्त ने बताया गया कि वे उक्त प्लाट के मूल मालिक के परिचित है.और उसके द्वारा उन्हें सेलाकुई में अपना प्लॉट होने के सम्बंध में जानकारी दी थी.ऐसे में  उक्त प्लॉट को खाली कराने के लिये झुग्गी झोपडियों में निवासरत लोगो से बातचीत कर सैटलमेंट करने के लिये भेजा था.और सैटलमेंट के लिए पैसा भी दिया था.इसके बाद अभियुक्तों द्वारा बस्ती में निवासरत कुछ लोगो को पैसा देकर उनकी झोपड़ी खाली करवाई गई थी, इस दौरान अभियुक्त द्वारा लालच में आकर  सैटलमेंट का पैसा हडपने की नीयत से झुग्गी झोपडियों में आग लगा दी, जिससे उक्त प्लाट को खाली कराया जा सके तथा सेटलमेंट का पैसा भी झोपड़िया में निवासरत व्यक्तियों को ना देना पड़े.

यह भी पढ़ें 👉  विकासनगर सांप्रदायिक विवाद मामलें SSP ने खुद संभाला मोर्चा,दो टूक बोले क़ानून व शांति व्यवस्था भंग करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा,जरूरत पड़ी तो NSA लगेगा.जनता की सुरक्षा को लेकर पुलिस कटिबद्ध: SSP

02 साल के अंतराल में दो बार आग लगाने की घटना

पुलिस के अनुसार बीते  05 मई 2024 को सेलाकुई क्षेत्रान्तर्गत भाऊवाला सुन्दरवन के पास झुग्गी झोपडियों में आग लगने की घटना घटित हुई. आग की चपेट में आने से लगभग 50 से 55 झुग्गी झोपडियां पूर्णतः जलकर राख हो गयी थी. उक्त झुग्गी झोपडियां सुन्दरवन क्षेत्र में एक प्राईवेट प्लाट पर बनी हुई थीं,जहां 02 वर्ष पूर्व वर्ष 2022 में भी इसी प्रकार आग लगने की घटना घटित हुई थी,02 वर्ष के अन्तराल में एक ही स्थान पर घटित उक्त दोनो घटनाओं पर संदिग्धता प्रतीत होने पर एसएसपी देहरादून द्वारा आग लगने के कारणों से जुडे सभी सम्भावित पहलुओं पर विस्तृत जांच के आदेश दिये गये.जांच में  पुलिस टीम को कार सवार व्यक्तियों द्वारा कार से उतरकर एक झोपडी के किनारे पर आग लगाये जाने की फुटेज प्राप्त हुई,जिसके  आधार पर एसएसपी देहरादून के निर्देशो पर तत्काल संदिग्ध अभियुक्तों के विरूद्ध थाना सेलाकुई में धारा 436 IPC के तहत मुक़दमा दर्ज किया गया.

यह भी पढ़ें 👉  शहीद विपिन सिंह के गाँव पहुँचे मुख्यमंत्री, सीएम ने शहीद को दी श्रद्धांजलि । बोले,, शहीद के नाम पर होगी सड़क और कॉलेज.

वही घटना की गंभीरता के दृष्टिगत घटना में शामिल अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए एसएसपी देहरादून द्वारा थानाध्यक्ष सेलाकुई को आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये.इसी क्रम में पुलिस टीम द्वारा घटना स्थल व आसपास आने जाने वाले मार्गो पर लगे सीसीटीवी फुटेज का अवलोकन करते हुए अभियुक्तों के सम्बंध में जानकारी हेतु मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया गया.पुलिस द्वारा किये गये प्रयासो से आगजनी की घटना को 02 अभियुक्तों राजेंद्र सिंह बिष्ट व रवि गोसाई द्वारा किया जाना प्रकाश में आया.इसके बाद पुलिस टीम द्वारा पर्याप्त साक्ष्यो के आधार पर 13 मई 2024 को घटना में शामिल एक अभियुक्त राजेंद्र सिंह बिष्ट को धूलकोट तिराहे से घटना में प्रयुक्त किये गये वाहन के साथ गिरफ्तार किया गया.वही  घटना में शामिल अन्य अभियुक्त रवि गुसांई अपने घर से फरार चल रहा हैं,जिसकी गिरफ्तारी के प्रयास किये जा रहे है..

 गिरफ्तार अभियुक्त :

राजेंद्र सिंह बिष्ट पुत्र कृपाल सिंह निवासी सुद्धोवाला, थाना प्रेम नगर, देहरादून, उम्र 45 वर्ष..

 वावांटेड अभियुक्त :-

रवि गुॅसाई निवासी सुद्धोवाला, प्रेम नगर

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें