FDA देहरादून ने फल मंडीयों में मारा छापा..प्रतिबंधित दवाओं से फलों को पकाने और  इंजेक्शन इस्तेमाल करने की थी शिकायत..FDA की प्रारंभिक जांच में कोई मिलावट नहीं पाया गया..ऐतिहातन 09 फलों के सेंपल एकत्र कर जांच के लिए लैब भेजे गए..

देहरादून: आम,पपीता,तरबूज और केले जैसे तमाम फलों को प्रतिबंधित दवाओं से पकाने और फलों में इंजेक्शन लगाकर ग्राहकों के सेहत से खिलवाड़ करने की शिकायत लगातार सोशल मीडिया के जरिए प्रसारित करने के मामले में त्वरित एक्शन लेते हुए खाद्य एवं औषधि प्रशासन (FDA) देहरादून टीम ने मंगलवार निरंजनपुर फल मंडी सहित आराघर,नेहरू कॉलोनी व 6 नंबर पुलिया में सुबह-सवेरे छापा मारा.हालांकि On the Spot किये गए प्रारंभिक जांच में FDA के अनुसार किसी भी फल में ऐसी कोई शिकायत नहीं पाई गई,जिसमें प्रतिबंधित Calcium carbide से फलों को पकाने और उसमें कलर देने वाला इंजेक्शन लगाने का विषय सामने आया हो.. लेकिन इसके बावजूद FDA टीम द्वारा अलग-अलग 09 फलों के सैंपल एकत्र कर उन्हें जांच के लिए प्रयोगशाला में भेजा हैं..

यह भी पढ़ें 👉  श्री केदारनाथ मंदिर के कपाट शीतकाल के लिए हुए बंद. 6माह तक ओकारेश्वर मंदिर में विराजमान रहेंगे बाबा केदार..
फलों की जांच करते FDA अधिकारी

FDA के वरिष्ठ अधिकारी रमेश सिंह ने बताया कि पिछले दिनों सोशल मीडिया पर इस तरह की भ्रम फैलाने वाली खबरें प्रसारित की गई, जिनमें बताया गया कि कई तरह के फलों को पकाने के लिए प्रतिबंध Calcium carbide का इस्तेमाल कर उनमें कलर देने का इंजेक्शन लगाया जा रहा है,लेकिन मंगलवार निरंजनपुर सब्जी मंडी के अलग-अलग थोक और रिटेल विक्रेताओं के यहां On the Spot जांच करने पर ऐसी कोई बात सामने नहीं आई.लेकिन इसके बावजूद जो अलग-अलग फल-आम,पपीता,केला,तरबूज,खरबूज जैसे 09 सैंपल एकत्र कर उन्हें जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा गया है.

यह भी पढ़ें 👉  हरिद्वार पुलिस जवान की आँख फोड़ने वाले 50 हजार के इनामी बदमाश को उत्तराखंड STF ने नोएडा से किया गिरफ्तार...शिकंजे आया गुलेलबाज कुख्यात "पारदी गैंग" का सरगना..STF ने पिछले 09 माह में 46 इनामी अपराधियों को धरदबोचा..

फलों को पकाने में इस्तेमाल होने वाला प्रमाणित ऐथेलीन पाया गया: FDA

वरिष्ठ अधिकारी रमेश सिंह ने यह भी बताया कि प्रारंभिक जांच में फलों को पकाने के लिए इस्तेमाल होने वाला ऐथेलीन प्रयोग में पाया गया हैं,जिसे भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण नई दिल्ली द्वारा प्रमाणित किया गया है..ऐसे में इस विषय को लेकर कुछ खबरें सोशल मीडिया पर जनता को भ्रमित करने के लिए प्रसारित की गई है.FDA देहरादून टीम की कार्रवाई में अभिहित अधिकारी मुख्यालय मनीष सयाना,वरिष्ठ खाद्य सुरक्षा अधिकारी देहरादून रमेश सिंह, मण्डी उप निरीक्षण आदि मौजूद रहे..

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी ख़बर: नानकमत्ता हत्याकांड का मुख्य साजिशकर्ता सुल्तान और सतनाम गिरफ्तार.. नेपाल बॉर्डर और हरियाणा से गिरफ्तार षड्यंत्रकारियों ने ही शूटर्स को रुपये और हथियार उपलब्ध कराए:SSP UDN…अब तक हत्याकांड में 09 अभियुक्त गिरफ्तार,एक का एनकाउंटर..

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें