देहरादून में दो भाइयों ने मामा को रंजिश के चलते ऐसे उतरा मौत के घाट ,फिर हत्या को खुदकुशी दिखाने का प्रयास.

देहरादून:कोतवाली नगर क्षेत्र के अंतर्गत दो सगे भाइयों ने पुरानी पारिवारिक विवाद और रंजिश के चलते अपने मामा की गला घोंट धारदार हथियार से कलाई काट निर्मम हत्या कर दी..इतना ही नहीं वारदात के बाद दोनों आरोपियों ने अपने मामा की मौत को आत्महत्या की घटना  दिखाने का प्रयास भी किया.लेकिन समय रहते मृतक के भाई द्वारा दोनों भांजो के खिलाफ अहम सबूत पेश कर मुकदमा कराया.. वही कोतवाली पुलिस द्वारा इस हत्याकांड की प्रारंभिक जांच पड़ताल और पोस्टमार्टम रिपोर्ट आधार पर दोनों हत्यारोपी भाइयों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया.

पुलिस की आँखों धूल झोंक हत्या को आत्महत्या बताने में जुटे रहे दोनों आरोपी..

पुलिस के मुताबिक घटना बीते 15 मई 2022 की हैं.जब सूचना मिली कि खुड़बुड़ा निवासी अमित नाम के व्यक्ति द्वारा शराब पीकर फाँसी लगा आत्महत्या कर ली गई हैं. मौत की सूचना मिलने पर जब पुलिस खुडबुड़ा स्थित घटना पहुँची तो अमित नाम के व्यक्ति का शव कमरे में मृत अवस्था में पड़ा मिला,जिसके दोनों हाथ की कलाइयों पर गहरे चोटों के निशान थे और गले में भी निशान पाए गए. वही घटना के बारे में जब परिजनों ने पूछताछ हुई तो बताया कि मृतक ने पहले हाथ की कलाई काटी और फ़िर फंदा लगा आत्महत्या कर ली है. पुलिस ने शव का पंचायत नामा कार्यवाही कर पोस्टमार्टम के लिए कोरोनेशन अस्पताल भिजवाया गया.उधर  पोस्टमार्टम जांच रिपोर्ट अनुसार मृतक की मौत का कारण लेक्चर मैट्रियल से गला दबाकर होना पाया गया.ऐसे मेंमृतक अमित के भाई संजय द्वारा शहर कोतवाली में तहरीर देकर अपने भांजे गौरव और राहुल के खिलाफ रंजीशन हत्या करने का मुकदमा दर्ज कराया गया..पोस्टमार्टम रिपोर्ट और घटना से जुड़े साक्ष्य-सबूत के आधार पर आरोपियों को हत्या case में गिरफ्तार कर जेल भेजा गया.

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड मुख्यमंत्री धामी के आदेश पर सरकारी भूमियों पर अवैध अतिक्रमण पर पुलिस की कार्यवाही युद्धस्तर पर जारी,कार्रवाई में देहरादून जनपद सबसे आगे..अब तक राज्यभर में इतने अवैध कब्जे हटाए गए.. 

शराब के नशे में चूर मृतक का पहले गला दबाया गया फिर हाथों की कलाई को काटा गया:पुलिस

कोतवाली नगर प्रभारी विद्या भूषण नेगी ने बताया कि हत्यारोपी राहुल और गौरव ने पूछताछ में बताया की मामा अमित बचपन से ही उनके साथ रहता था.मामा शराब पीने का आदी था जिसके कारण उसके द्वारा पुरानी पारिवारिक विवाद और रंजिश में घर पर लंबे समय से मानसिक तनाव चल रहा था.बस इस खेल को खत्म करने के दोनों भाईयों ने मामा की हत्या का प्लान बनाया. मामा द्वारा पहले शराब पीकर एक बार हाथ की कलाई काटने का मामला सामने आया था.पुलिस के जांच अनुसार इसी बात को ढाल बना 15 मई 2022 की रात राहुल और रोहित अपने मामा अमित को उस शाम पहले खूब शराब पिलाई और फिर बीमार होने का बहाना बनाकर घर के ऊपर वाले कमरे में ले गए. नशे चूर  मामा के दोनों हाथ राहुल पकड़ें और गौरव ने रस्सी से गला दबाकर अमित को मौत की नींद सुला दिया. हत्या को आत्महत्या का रूप देने के लिए दोनों भाइयों ने एक लाल चुन्नी को गले में बांधकर कमरें की छत से लगे लोहे के पाइप से बांध दिया. और उसके बाद मृतक के दोनों हाथों की कलाई को धारदार चाकू से काट दिया. क्योंकि पूर्व में भी मृतक मामा अमित नशे में अपने हाथों की कलाइयों को काटा चुका हैं ऐसे किसी को भी यह घटना आत्महत्या लगे इसका आरोपियों द्वारा खेल किया गया.वही इस घटना के बाद दोनों भाइयों ने आसपास के लोगों को  एकत्र कर मामा के शव को नीचे उतार दिया. उधर सूचना के आधार पर जब पुलिस मौके पर पहुंची तो दोनों आरोपित भाइयों ने बताया कि मामा बहुत शराब पीता था, ऐसे शराब के नशे में उसने अपने हाथों की कलाई  काटकर आत्महत्या कर ली.

यह भी पढ़ें 👉  हरिद्वार पुलिस का शिकंजा: गैंगस्टर के बाद अब नशा माफियाओं की अवैध सम्पत्ति ज़ब्तीकरण कार्रवाई..

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें