संदिग्ध परिस्थितियों में दूधली के जंगल से युवक की मौत की गुत्थी दून पुलिस ने 24 घण्टें में सुलझाई…मामूली बात पर निर्मम हत्या करने वाले अभियुक्त को किया गिरफ्तार..

मृतक का चचेरा भाई ही निकला हत्यारा,पत्थरों से वार कर की थी युवक की निर्मम हत्या..

अभियुक्त द्वारा युवक की हत्या कर उसे जंगली जानवर द्वारा हमला किया जाना दर्शाने का किया गया था प्रयास..

जगंल में शराब पीने के दौरान किसी बात को लेकर हुआ था दोनों का विवाद.. 

मृतक के परिजनों द्वारा घटना में जंगली जानवर के हमले की आशंका जताई गई थी परंतु प्रथमदृष्टया मामला संदिग्ध प्रतीत होने पर पुलिस द्वारा घटना के हर पहलू की विस्तृत जांच की गई, जिससे घटना में शामिल अभियुक्त को गिरफ्तार कर घटना का त्वरित खुलासा किया गया :- एसएसपी देहरादून..

देहरादून: 22 जनवरी 2024 को थाना क्लेमेन्टाउन को वन विभाग के कर्मियों द्वारा टेलीफोन के माध्यम से सूचना दी गई कि दूधली चौकी के सामने जंगल के अन्दर एक व्यक्ति मृत अवस्था में पड़ा था, जिसे उसके परिजन घर ले गए.. मृतक के विषय में जानकारी करने पर मृतक की पहचान अमित कुमार निवासी दूधली के रूप में हुई.. सूचना पर पुलिस द्वारा तत्काल मौके पर जाकर घटना के सम्बन्ध में जानकारी ली गई और मृतक के शव को कब्जे में लेकर पंचायतनामा कि कार्यवाही कर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया..जांच में पता चला युवक के चेहरे व सिर पर आई चोटों को देखकर परिजनों व स्थानीय व्यक्तियों ने किसी जंगली जानवर के हमले में अमित उपरोक्त की मृत्यू होने की आशंका जताई गई..लेकिन दूसरी तरफ मृतक की चोटों से उक्त घटना संदिग्ध प्रतीत हो रही थी..ऐसे में

यह भी पढ़ें 👉  राजनीति: भाजपा में भितरघात का डर, नतीजो से पहले मान रहे प्रत्याशी हार . *प्रदेश में जारी भितरघात पर रार...*

घटना की संदिग्धता के दृष्टिगत SSP देहरादून द्वारा थानाध्यक्ष क्लेमेन्टाउन को घटना की विस्तृत जांच कर सत्यता का पता लगाने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये..इसी क्रम घटना की विस्तृत जांच के लिए पुलिस टीम द्वारा घटना स्थल का निरीक्षण किया गया तो किसी जानवर द्वारा हमला किये जाने के सम्बन्ध में कोई साक्ष्य मौके से प्राप्त नहीं हुए..ऐसे में परिजनों व आस-पास के लोगो से पूछताछ में घटना के दिन मृतक का उसके तीन अन्य दोस्तों 1-राजेंद्र उर्फ़ राजन , 2-सुनील , 3- मुकेश, जो मृतक का चचेरा भाई है के साथ दिन के समय दूधली स्थित जंगल की तरफ जाने और रात्रि में उसके साथ गये अन्य लोगों का वापस अपने घरों में आना ज्ञात हुआ.इस जानकारी के आधार पर घटना के सम्बन्ध में मृतक की बहन श्रीमती दीपा देवी द्वारा अज्ञात व्यक्ति के विरूद्ध उसके भाई की हत्या किये जाने के सम्बन्ध में थाना क्लेमेन्टाउन पर प्रार्थना पत्र दिया गया..तहरीर के आधार पर थाना क्लेमेन्टाउन में धारा: 302 IPC के तहत का मुकदमा पंजीकृत किया गया..दर्ज केस की विवेचना के दौरान मृतक के साथ गये उसके तीनों दोस्तों को चौकी दूधली पर बुलाकर पुलिस द्वारा अलग-अलग पूछताछ की गई. पूछताछ के दौरान मृतक के चचेरे भाई मुकेश कुमार की बातों पर संदिग्धता प्रतीत होने पर पुलिस द्वारा सख्ती से पूछताछ करने पर उसके द्वारा अपने चचेरे भाई अमित कुमार की हत्या करना स्वीकार किया गया.ऐसे में उसे मौके से गिरफ्तार करते हुए उसकी निशानदेही पर घटनास्थल के पास से घटना में इस्तेमाल किया गया आलाक़त्ल पत्थर व घटनास्थल से कुछ दूर खून लगे लोअर और चप्पलों को बरामद किया गया..

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में कोरोना विस्फोट, फिर से डराने लगें कोरोना के बढ़ते आंकड़े . देखिये आज कहाँ मिले कितने नए मामले...

विवरण पूछताछ:

 हत्या के आरोप में गिरफ्तार अभियुक्त मुकेश कुमार ने पूछताछ में बताया गया कि वह कारपेंटर का कार्य करता है. बीते 21 जवनरी 2024 को वह मृतक अमित अपने 02 अन्य दोस्तों राजन और सुनील के साथ जंगल में पार्टी करने गया था. दोपहर बाद सुनील ने उसे फोन कर जगल में बुलाया,जहां उन चारों ने एक साथ बैठकर शराब पी शाम के समय करीब 05 बजे राजेन्द्र अपने घर चला गया.वही उसके कुछ देर बाद ही सुनील भी मौके से अपने घर को चला गया. इस बीच मृतक अमित के मोबाइल पर किसी का फोन आया और अमित द्वारा अभियुक्त मुकेश पर उक्त व्यक्ति से बात करने के लिये जोर देने लगा. जिस पर उन दोनों आपस में विवाद हो गया..इसके बाद मृतक अमित के अभियुक्त मुकेश से गाली गलौच करने पर अभियुक्त मुकेश द्वारा मृतक अमित को नीचे गिराते हुए पास पडे एक बडे पत्थर से उसके सर पर 03-04 वार कर उसकी हत्या कर दी..इसके वारदात के बाद अभियुक्त ने मौके पर पडी शराब की बोतल को फोडकर उसके कांच से मृतक के चेहरे व सर के पिछले हिस्से में गहरे घाव बना दिये.ताकि घटना किसी जानवर के हमले से अमित की मौत होना दर्शाया जा सके.इसके पश्चात अभियुक्त द्वारा अपने खून लगे हुए लोअर व चप्पलों को पकडे जाने के डर से घटना स्थल थोडी दूरी पर ही छिपा दिया.इसके बाद वापस अपने घर आकर सो गया. सुबह जब मृतक के परिजनों द्वारा उसकी लाश जंगल में पडी होने की सूचना मिली तो अभियुक्त भी परिजनों और गांव वालों के साथ मौके पर गया. वही लोगों से अत्यधिक जोर देकर अमित की मौत जंगली जानवर के हमले से होने की बात कहने लगा..    

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून: रात के अंधेरे में चोरी हुई बस घटना का दून पुलिस ने 24 घंटे में किया खुलासा..चोरी की गई बस के साथ शाहजहांपुर निवासी चोर गिरफ्तार..SSP देहरादून की अपराधियों पर नकेल कसने की रणनीती ला रही है रंग..

हत्यारोपी गिरफ्तार अभियुक्त:-

मुकेश पुत्र स्वर्गीय जयप्रकाश निवासी ग्राम दूधली थाना क्लेमेंट टाउन, उम्र 47 वर्ष

बरामदगी

1- घटना में प्रयुक्त पत्थर

2- मृतक के खून से सने कपड़े..

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें