पश्चिमी उत्तर प्रदेश का कुख्यात 01 लाख का इनामी बदमाश उत्तराखंड STF के शिकंजे,सर्राफा व्यापारी को लूट-हरिद्वार पुलिस पर जानलेवा हमला कर था फ़रार.. यूपी और उत्तराखंड में 15 से अधिक संगीन मुकदमें दर्ज..

हरिद्वार के लक्सर क्षेत्र में सर्राफा व्यापारी को लूटने के दौरान पुलिस कर्मियों पर फायर झोंक जानलेवा हमला करने मामलें में फ़रार चल रहे एक लाख के इनामी बदमाश जावेद को आखिरकार उत्तराखंड एसटीएफ ने देहरादून से विकासनगर क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया हैं.इससे पहले इस गैंग के 01 लाख के इनामी बदमाश फुरकान को भी STF ने 15 दिन पूर्व बिहार गिरफ्तार किया था.ऐसे में अब तक पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मुकीम काला और साबिर गैंग से ताल्लुक रखने वाले 5 बदमाशों को उत्तराखंड पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है..गिरोह के पांचवें सदस्य के रूप में गिरफ्तार किए गए जावेद पुत्र इदरीश के खिलाफ लूट,डकैती,आर्म्स एक्ट,गैंगस्टर और पुलिस पर जानलेवा हमला करने जैसे 15 से अधिक गंभीर किस्म के मुकदमें यूपी के शामली और सहारनपुर सहित उत्तराखंड के हरिद्वार जनपद में दर्ज है.STF के अनुसार काफ़ी समय से फरार चल रहे वांटेड जावेद के बारे में जानकारी मिली कि वह देहरादून के विकास नगर इलाकें में अपने ससुराल में गुपचुप तरीके आता रहता हैं. इसी सूचना के आधार पर विकासनगर इलाके में एसटीएफ ने लगातार दबिश देकर जावेद को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की. STF की गिरफ्त में आया कुख्यात जावेद पुत्र इदरीश मूल रूप से उत्तर प्रदेश के जिला सहारनपुर,ग्राम लंढोर गुर्जर,थाना रामपुर मनिहारन का रहने वाला है.

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग्: उत्तराखंड में 10फरवरी को जबरदस्त सियासी घमासान. देवभूमि में मौजूद होंगे ये दिग्गज, इन विधानसभा में तय है कार्यक्रम..
बाइट:आयुष अग्रवाल, STF एसएसपी उत्तराखंड

मुकीम काला और साबिर गैंग के बाद जावेद ने बनाया था अपना गिरोह:STF

उत्तराखंड एसटीएफ एसएसपी आयुष अग्रवाल के मुताबिक गिरफ्तार किया गया अपराधी जावेद पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुख्यात मुकीम काला गैंग का सक्रिय सदस्य रहा है. मुकीम काला की मृत्यु के बाद साबिर गैंग के साथ मिलकर लूट व डकैती जैसी अपराधिक घटनाओं को जावेद और फुरकान अपने साथियों के साथ मिलकर अंजाम देते थे.उत्तर प्रदेश के जंधेदी निवासी साबिर एक बड़ा बदमाश रहा है,जिसको उत्तर प्रदेश पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया था.साबिर के खात्मे के बाद से जावेद और फुरकान जैसे बदमाश अपना गैंग बनाकर उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड (हरिद्वार)में बड़ी वारदातों को अंजाम दे रहे थे.यही कारण रहा कि वर्तमान समय तक उत्तराखंड एसटीएफ ने इनामी अपराधियों की धरपकड़ अभियान के दौरान इस गैंग के सक्रिय सदस्य जावेद एवं फुरकान सहित पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. बता दें कि एसटीएफ ने नवंबर 2022 से वर्तमान समय तक 40 इनामी अपराधियों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेजा है. इन गिरफ्तारियां में चार अपराधी ऐसे थे जिनके ऊपर 01 लाख से सवा लाख का इनाम घोषित था..

यह भी पढ़ें 👉  अच्छी ख़बर: उत्तराखंड पुलिस भर्ती परीक्षा में चयनित हुए अभ्यर्थी 3 जून 2023 तक करा लें अपना चिकित्सा स्वास्थ्य परीक्षण,डीजीपी ने जारी किये जनपद प्रभारियों को निर्देश.

उत्तराखंड STF एसएसपी आयुष अग्रवाल के मुताबिक गिरफ्तार किए गए एक लाख के इनामी गैंगस्टर जावेद का पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में लंबा-चौड़ा अपराधिक इतिहास है.अभी इसके अन्य अपराधिक मामलों की भी जांच की जा रही है. साथ ही इसके नेटवर्क से जुड़े अन्य लोगों के बारे में भी जानकारी जुटाकर आगे की कार्रवाई जारी है..

यह भी पढ़ें 👉  दुःखत: सवारियों से भरी मैक्स गंगा जी में गिरने से बड़ा हादसा,5 घायलों को SDRF ने किया रेस्क्यू,चालक सहित 6 लोग लापता,02 के शव बरामद..सर्चिंग अभियान जारी.

जानकारी के मुताबिक अक्टूबर 2022 में हरिद्वार के लक्सर थाना क्षेत्र में एक सर्राफा व्यापारी को लूटने की घटना के दौरान 5 बदमाशों द्वारा पुलिसकर्मियों पर हमला किया गया था.इस घटना में 2 पुलिसकर्मी गोली लगने से जख्मी हुए थे.हालांकि पुलिस ने तीन बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया था. लेकिन इस वारदात में संलिप्त गैंग के दो प्रमुख सदस्य फुरकान और जावेद फरार चल रहे थे. ऐसे में दोनों फ़रार अभियुक्तों पर उत्तराखंड पुलिस द्वारा एक-एक का इनाम घोषित था. एसटीएफ ने पिछले दिनों फुरकान को बिहार से गिरफ्तार किया.जबकि इस गैंग के पांचवें सदस्य जावेद को STF ने मंगलवार देहरादून के विकासनगर से गिरफ्तार किया..

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें