साल 2023 के अंतिम दिन उत्तराखंड STF ने किया अपना 55वां शिकार..हरिद्वार डॉक्टर की हत्या कर लूटपाट करने वाले कुख्यात इनामी को दिल्ली से किया गिरफ्तार..

देहरादून: उत्तराखंड STF (स्पेशल टास्क फोर्स)द्वारा कुख्यात और इनामी अपराधियों के खिलाफ धावाबोल धरपकड़ का सिलसिला जारी है.. इसी क्रम में एसटीएफ ने  साल 2023 के अंतिम दिन अपना 55वां शिकार करते हुए हरिद्वार में नामी डॉक्टर की हत्या और लूटपाट कर फ़रार चल रहे मुख्य अभियुक्त को देर रात दिल्ली से गिरफ्तार किया है… गिरफ्त में आये कुख्यात अभियुक्त शिवम उर्फ शिब्ब्बु लंगड़े पर जनपद हरिद्वार पुलिस की ओर से 25000 रु. का ईनाम घोषित था. बता दें कि सितंबर 2023 में हरिद्वार के कनखल थाना क्षेत्र दादू चौक भौरो मन्दिर रोड नियर प्रेमनगर आश्रम पुल में डॉ अशोक चड्ढा की गला रेतकर हत्या और फिर लूटपाट की घटना को अंजाम दिया गया था.इस वारदात में शामिल 04 अभियुक्तों को हरिद्वार पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी थी. लेकिन वारदात का मुख्य अपराधी शिवम उर्फ शिब्ब्बु लंगड़ा घटना के बाद से फ़रार चल रहा था.

यह भी पढ़ें 👉  ब्लाइंड मर्डर केस का 72 घंटे में हरिद्वार पुलिस ने किया खुलासा,पहचान न रखने वाले हत्यारे पति को बदायूं से दबोचा.

लूटपाट करने के इरादे से गला रेतकर की डॉक्टर की हत्या:पुलिस

उत्तराखंड STF एसएसपी आयुष अग्रवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि बीते 11 सितंबर 2023 को थाना कनखल,हरिद्वार में वादनी दीप्ती पुत्री डॉ० अशोक चढडा निवासी म.न. 11 पजाब सिन्ध क्षेत्र हरिद्वार द्वारा लिखित तहरीर दी गई कि कुछ अज्ञात अभियुक्तों ने उनके पिता डॉ० अशोक चढडा की गला रेतकर हत्या कर दी गई हैं.. मामलें की गंभीरता को देखते हुए थाना कनखल पर धारा 302 IPC के तहत मुकदमा पजीकृत किया गया..इस केस के विवेचना के दौरान 06 अभियुक्त घटना कारित करने में प्रकाश में आए…जबकि दर्ज मुकदमें की विवेचना के दौरान इस बात की भी जानकारी समाने आयी कि शिकायतकर्ता बेटी के पिता की हत्या लूटपाट करने के इरादे से की गई थी..ऐसे में दर्ज अभियोग में लूटपाट की धारा 396.412.302.201.34 IPC की वृद्धि की गयी..

यह भी पढ़ें 👉  IPL मेचों में करोड़ों का सट्टा खिलाने वाले यूपी का गैंग देहरादून में गिरफ्तार,अलग-अलग शहरों में ठिकाने बदलकर अब तक 30 मैचों की बैटिंग बुक.

घटना के बाद गिरफ्तार अभियुक्तों से पूछताछ में मुख्य अभियुक्त शिब्बू लंगड़े का नाम आया: STF

 इस केस में विवेचना के दौरान हरिद्वार पुलिस द्वारा पूरे वारदात में शामिल 04 अभियुक्तों को 15 सितंबर 2023 को गिरफ्तार किया गया.घटना कारित के 4 दिन बाद गिरफ्तार अभियुक्त 1-भानु प्रताप पुत्र कटार सिंह निवासी ग्राम बस्तोरा थाना हस्तिनापुर जिला मेरठ (यूपी) हाल निवासी किरायेदार मायाविहार जगजीतपुर थाना कनखल जनपद हरिद्वार. 2- संदीप कुमार पुत्र जवाहर सिंह निवासी पण्डितपुरी रायसी थाना लक्सर जिला हरिद्वार.3- अभिजीत उर्फ सुक पुत्र मनमोहन सिंह निवासी आर्यनगर ज्वालापुर हरिद्वार ..4 मनीष गिरी पुत्र जनेश्वर निवासी बैराज कालोनी मायापुर थाना कोतवाली हरिद्वार को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया..इससे पहले कार्यवाही के दौरान गिरफ्तार अभियुक्तों ने पुछताछ में बताया कि मुख्य अभियुक्त 1- शिव्वू लगडा पुत्र मोहर सिह निवासी लालमन्दिर आर्यनगर कोतवाली ज्वालापुर हरिद्वार और 2- दीपक कोती पुत्र इदम सिह निवासी रावली महदूद थाना सिडकुल जनपद हरिद्वार भी घटना में शामिल थे. लेकिन दोनों ही घटना के दिन से ही लगातार फरार चल रहे थे..ऐसे में मुख्य अभियुक्त  शिब्बू लंगड़े की गिरफ्तारी पर SSP हरिद्वार द्वारा 25 हजार रुपए का इनाम घोषित किया गया..

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर: कांग्रेस महिला प्रवक्ता के खिलाफ आदर्श आचार संहिता उल्लंघन सहित गंभीर धाराओं में दर्ज मुक़दमा दर्ज..

मैनुअली पुलिसिंग के जरिये अपराधी तक पहुंची एसटीएफ: SSP STF

STF एसएसपी आयुष अग्रवाल के अनुसार इनामी अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए STF ठोस रणनीति अपनाए हुए है. लिहाजा इस अभियुक्त  की गिरफ्तारी में भी STF द्वारा काफी दिनों से मैनुअली सूचनाओं को एकत्रित किया गया, जिसके फलस्वरूप कल देर रात में इनामी अपराधी शिब्बु लगंडे को STF की टीम द्वारा दिल्ली से गिरफ्तार किया गया है..

 गिरफ्तार अभियुक्त.

1- शिवम उर्फ शिब्बू लंगड़ा पुत्र मोहर सिह निवासी लालमन्दिर आर्यनगर कोतवाली ज्वालापुर हरिद्वार..

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें