नकल माफियाओं पर शिकंजा जारी,JE/AE पेपर लीक केस में अब IAS कोचिंग एकेडमी का संचालक गिरफ्तार,कई संदिग्ध कोचिंग संचालक भी रडार पर..

हरिद्वार: JE/AE प्रश्न पत्र लीक प्रकरण में 19वीं गिरफ्तारी के रूप में अब IAS कोचिंग एकेडमी चलाने वाले संचालक की गिरफ्तारी हुई है.. गिरफ्तार अभियुक्त दीपेन्द्र पंवार जनपद उधम सिंह नगर के रुद्रपुर में IAS कोचिंग एकेडमी के नाम से कोचिंग सेन्टर चला रहा था. हरिद्वार एसआईटी के मुताबिक गहरी पड़ताल और पूछताछ के बाद कथित कोचिंग सेन्टर संचालक को  कानून के शिकंजे में लिया गया है.अभी तक कि जांच पड़ताल के अनुसार यूकेपीएससी प्रश्न पत्र लीक गैंग के साथ कोचिंग सेन्टर संचालकों के गठजोड़ होने के उपरांत यह खुलासा हुआ है.ऐसे में आने वाले दिनों में कई अन्य संदिग्ध कोचिंग सेन्टर संचालकों की भी परेशानी बढ़ सकती है.

 नकल विरोधी कानून के तहत कोई माफिया बच नहीं पाएगा:SSP हरिद्वार 

हरिद्वार एसआईटी के अनुसार  पटवारी व J.E./A.E. परीक्षा प्रकरणों में अब तक कुल 36 आरोपी किए जा चुके हैं.इतना ही नहीं गिरफ्तार अभियुक्तों पर गैंगस्टर एक्ट के तहत भी शिकंजा कसने का सिलसिला जारी हैं. इसी क्रम में एक और केस गैंगस्टर एक्ट में दर्ज किया गया है. हरिद्वार एसएसपी अजय सिंह के मुताबिक नया नकल विरोधी कानून निःसंदेह मील का पत्थर साबित होगा.हमारा प्रयास है कि कोई भी नकल माफिया बचने न पाए.

नकल माफियाओं ने अपने परिचितों के बैंक खातों में मंगवाई रकम

 एसआईटी के मुताबिक जांच पड़ताल के दौरान JE/AE पेपर लीक प्रकरण में संदिग्धता मिलने पर जनपद उधमसिंहनगर स्थित IAS एकेडमी के संचालक दीपेन्द्र पंवार से पूछताछ की गई.इसके उपरांत साक्ष्यों के आधार पर पता चला कि दीपेन्द्र पंवार द्वारा अभियुक्त संजय धारीवाल पुत्र सुरेन्द्र के साथ मिलकर जे.ई.भर्ती परीक्षा में छात्र प्रियंका राणा,अंकित सुंदरियाल और वीरेन्द्र को तैयार कर उनसे लाखों रुपये की धनराशी अपने परिचितों के खातों में मंगवा कर जे.ई.भर्ती परीक्षा के प्रश्न पत्र लीक किये जाने व षड़यन्त्र में शामिल होने की पुष्टि हुयी है. SIT के अनुसार अभियुक्त दीपेन्द्र द्वारा अभियुक्त संजय धारीवाल के कहने पर 7 जनवरी 2023 को बिहारीगढ़ रिजोर्ट में पटवारी/लेखपाल भर्ती परीक्षा का प्रश्न पत्र परीक्षा से पूर्व पढने की भी पुष्टि हुयी है.इसी आधार पर परीक्षा अधिनियम के अन्तर्गत 41क दं.प्र.स. का नोटिस भी तामिल कराया गया.

यह भी पढ़ें 👉  देश में पहली बार एक साथ 08 नाइजीरियन साइबर क्रिमिनलों पर उत्तराखंड STF की बड़ी कार्यवाही.. विदेश से पार्सल भेजने के नाम पर कस्टम अधिकारी बनकर देश भर में ठगी का जाल..

फरार अभियुक्तों पर इनाम घोषित के साथ ही कुर्की का शिकंजा

बता दें कि यूकेपीएससी परीक्षा प्रकरणों के सम्बन्ध में दर्ज मुकदमों में अब तक कुल 36 अभियुक्तों की गिरफ्तारी/रिमांड हो चुकी है.इसमें पटवारी प्रकरण में 17 एवं J.E./A.E. प्रकरण में 19 की गिरफ्तारी हो चुकी है. जबकी 02 फरार अभियुक्तों पर इनाम घोषित कर तलाश करने के साथ साथ उनकी सम्पत्ति कुर्की आदि की कार्यवाही प्रचलित है.SIT के अनुसार आरोपियों के विरुद्ध कार्यवाही करते हुए पटवारी प्रकरण में 07 अभियुक्तों के खिलाफ गैंगस्टर के तहत मुकदमा दर्ज किया जा चुका हैं. जबकि 12 के विरुद्ध सप्लिमेंटरी रिपोर्ट के माध्यम से गंगेस्टर एक्ट लगाया गया है.वही जेई/ए ई मामले में 06 के खिलाफ भी  गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.

यह भी पढ़ें 👉  जर्नल विपिन रावत और पत्नी मधुलिका रावत की अस्थियां कल (शनिवार) गंगा में होगी विसर्जित. हरिद्वार VIP घाट पर होगा कार्यक्रम, प्रशासन जुटा तैयारी में...

गिरफ्तार अभियुक्त  

दीपेन्द्र पंवार पुत्र ऋषिकुमार उम्र 32 वर्ष निवासी मुकन्दपुर थाना गदरपुर उद्यम सिंह नगर.

गैंगस्टर एक्ट की कार्यवाही–

(कुल 25)

पटवारी केस

1- संजीव चतुर्वेदी पुत्र त्रिपुरारी निवासी मौहल्ला कदम चौराह बलिया उ.प्र.

2- रितू पुत्र संजीव चतुर्वेदी निवासी उपरोक्त

3- मनीष कुमार पुत्र राजवीर सिंह निवासी गोविन्दनगर रुड़की हरिद्वार

4- प्रमोद कुमार पुत्र एम. चौहान निवासी गंगदासपुर लक्सर हरिद्वार

5- राजपाल पुत्र स्व. फूल सिंह निवासी फुलचंदपुर थाना गागलहेड़ी सहारनपुर उ.प्र. हाल निवासी अम्बुवाला पथरी हरिद्वार

6- संजीव कुमार पुत्र स्व. मांगेराम निवासी फुलचंदपुर थाना गागलहेड़ी सहारनपुर उ.प्र. हाल निवासी जर्स कंट्री ज्वालापुर हरिद्वार

7- रामकुमार पुत्र एम. सिंह निवासी ग्राम लक्सर हरिद्वार

गैंगस्टर सप्लिमेंटरी पटवारी प्रकरण

8- सोनू उर्फ खडकू पुत्र इलमचंद निवासी ग्राम पाडली खुशहालपुर थाना जनकपुरी जिला सहारनपुर उ.प्र. 

9- दीपक पुत्र सुशील निवासी ग्राम प्रह्लादपुर थाना खानपुर जनपद हरिद्वार

10- सौरभ प्रजापति पुत्र स्व. हरिद्वारी निवासी सीएमआई अस्पताल के पास, पीठ बाजार ज्वालापुर हरिद्वार

11- अंकुश पुत्र मुकेश निवासी सुकरासा थाना पथरी जनपद हरिद्वार

यह भी पढ़ें 👉  दिल्ली में उत्तराखण्ड STF की Raid, 2018-19 से फरार घोड़ासन/चादर गैंग का सवा लाख का कुख्यात ईनामी गिरफ्तार. दिल्ली NCR में बड़ी घटना की फ़िराक में था गैंग.

12- अभयराम पुत्र श्री जयराम निवासी ग्राम पीतपुर थाना कोतवाली लक्सर जनपद हरिद्वार

13- धर्मेंद्र पुत्र अमरपाल निवासी लालवाला मजबता उर्फ कुडकावाला थाना बुग्गावाला जनपद हरिद्वार

14- अनुराग पांडे उर्फ कुमार अनुराग पुत्र उमेश कुमार निवासी ग्राम सरया पोस्ट डुमरी थाना बासखेड़ी बलिया उत्तर प्रदेश

15- डेविड पुत्र साधुराम निवासी बाकरपुर थाना लक्सर जिला हरिद्वार

16- संजय धारीवाल पुत्र सुरेश धारीवाल निवासी मौहम्मदपुर जट थाना कोतवाली मंगलौर जनपद हरिद्वार

17- संदीप पुतर् स्व. मांगेराम निवासी कुलचन्दपुर उर्फ नथौडी थाना गागलहेड़ी जिला सहारनपुर उ.प्र.

18- अमित पुत्र स्व. मांगेराम निवासी कुलचन्दपुर उर्फ नथौडी थाना गागलहेड़ी जिला सहारनपुर उ.प्र.

19- सुधीर उर्फ सतीश कुमार उर्फ सुशील कुमार पुत्र स्व. सुरेन्द्र सिंह निवासी मौहम्मदपुर जट थाना कोतवाली मंगलौर जनपद हरिद्वार हाल पता म.न. 752 प्रथम तल सैक्टर 4 थाना सिटी जिला करनाल हरियाणा

एई/जेई केस 

01- संजीव कुमार पुत्र वैद्यनाथ निवासी शिवपुरी सहरसा बिहार हाल अनुभाग अधिकारी लोक सेवा आयोग कनखल हरिद्वार (गैंग लीडर)

02- नितिन चौहान पुत्र वैद्यनाथ निवासी ग्राम अन्नेकी थाना सिडकुल जनपद हरिद्वार

03- सुनील सैनी पुत्र ज्ञान सिंह सैनी निवासी पूर्वावाला थाना लक्सर जनपद हरिद्वार

04- विवेक कुमार उर्फ विक्की पुत्र जय सिंह ग्राम चुडियाला थाना भगवानपुर जनपद हरिद्वार

05- विशु बेनीवाल पुत्र कृष्णपाल निवासी मंडावली मंगलौर हरिद्वार

06- अवनीश उर्फ अश्वनी पुत्र विजेंद्र निवासी नारसन खुर्द मंगलौर.

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें