STF का शिकंजा:फ़र्जी कंपनी के जरिए देशभर में 1200 करोड़ की धोखाधड़ी गैंग का एक और इनामी सदस्य दिल्ली से गिरफ्तार..अब तक 6 गिरफ्तार,7 की तलाश जारी

फर्जी वेबसाइट के जरिए Fake कंपनी बनाकर देशभर में ऑनलाइन ट्रेडिंग मुनाफ़े का लालच देकर 1200 करोड़ रूपए का स्कैम करने वाले गिरोह के एक और शातिर इनामी अभियुक्त को उत्तराखंड STF में दिल्ली उत्तम नगर से गिरफ्तार किया है.10 हजार के इनामी अभियुक्त अश्वनी  कुमार पुत्र चंद्रमणि तिवारी 2021 से पुलिस की पकड़ से फरार था. STF टीम ने अभियुक्त को दिल्ली के उत्तम नगर थाना बिंदापुर के मकान नंबर दो, 3rd फ्लोर मंगल बाजार रोड (विजय विहार) से धर दबोचा हैं. हवाला गैंग का 36 वर्षीय अश्वनी कुमार मूल रूप से बिहार के ग्राम भभुआ,थाना भभुआ, जनपद कैमूर का रहने वाला हैं.जानकारी के अनुसार एसटीएफ की सीसीपीएस यूनिट द्वारा देश के हवाला ऑपरेटरों के संगठित गैग खिलाफ लगातार कार्यवाही जारी हैं.

यह भी पढ़ें 👉  रिलायंस ज्वैलर्स डकैती प्रकरण में बिहार से गिरफ्तार 02 लाख के ईनामी मुख्य अभियुक्त प्रिंस कुमार का दून पुलिस ने लिया ट्रांजिट रिमांड..विस्तृत पूछताछ में खुलेंगे राज..

हरिद्वार निवासी से हुई थी 15 लाख की ठगी..

एसआईटी के मुताबिक 9 सितंबर 2021 को जनपद हरिद्वार के ज्वालापुर सुभाष नगर निवासी अमित कुमार को एक अज्ञात व्यक्ति द्वारा व्हाट्सएप मैसेज भेज कर सोना और रेड वाइन मसाले आदि चीजों की चीन से आनलाइन ट्रेडिग पर इन्वेस्टमेंट करके ज्यादा मुनाफा कमाने का प्रलोभन देकर इसी गैंग द्वारा बैंक खातों में 15 लाख रुपए की ठगी की गयी थी. शिकायतकर्ता की तहरीर पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया था.STF के अनुसार देशभर में हवाला गैंग से जुड़े इस फर्जी ऑनलाइन ट्रेडिंग कम्पनी के नाम पर 1200 करोड़ की ठगी करने वाले गिरोह के अब तक में कुल 13 अभियुक्तों की पहचान कर 06 की गिरफ्तारी हो चुकी हैं.जबकि 04 अभियुक्तो को नोटिस और 03 फरार अपराधियों के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी किए गए हैं.

यह भी पढ़ें 👉  गौरवान्वित: उत्तराखंड STF के 03 जाबाज़ पुलिस इंस्पेक्टर को गृह मंत्रालय भारत सरकार से “स्पेशल ऑपरेशन पदक" ...

हांगकांग -सिंगापुर में बनी वेबसाइट के ज़रिए अपराध का तरीकाः

उत्तराखंड STF एसएसपी आयुष अग्रवाल के मुताबिक फर्जी कम्पनी बनाकर आमजनता को आनलाईन ट्रेडिंग में फर्जी बेवसाइट के माध्यम से बड़े मुनाफ़े का लालच देकर आनलाईन धोखाधडी वाले इस गिरोह का भारत के अलग-अलग हिस्सों में दर्जनो फर्जी कम्पनी बनायी गयी थी. इतना ही नहीं इस गैंग के साईबर अपराधियो द्वारा फिल्मो की स्क्रीनिंग के नाम पर करोडो रुपये क्रिप्टो करेंसी के माध्यम से भारत से बाहर भी भेजे गये हैं.इस अपराध में प्रयुक्त बैवसाईट की डिटेल से जानकारी प्राप्त हुई कि ये वेबसाइट हांगकांग व सिगांपुर में बनायी गया थी.

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून SSP के निर्देश पर देर रात चले अभियान में अवैध खनन व ओवर लोडिंग के विरुद्ध पुलिस की बड़ी कार्रवाई..ओवरलोडिंग में 16 डम्पर किये सीज..50 डम्परों का MV एक्ट में चालान..अवैध खनन व ओवर लोडिंग को किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा: एसएसपी देहरादून..

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें