मिशन गौरा शक्ति की महिला पुलिस जवानों का Self Defence Master Training Programme संपन्न,अब प्रशिक्षण प्राप्त ये पुलिस 13 जनपदों में देंगी निशुल्क ट्रेनिंग..

उत्तराखंड पुलिस विभाग द्वारा मिशन गौरा शक्ति के अंतर्गत महिला सशक्तिकरण का विशेष  कार्यक्रम राज्यभर में चलाया जा रहा हैं.इसी मिशन गौरा शक्ति के मध्यनजर महिलाओं में आत्मविश्वास को बढ़ाने और उनमें आत्म सुरक्षा गुर सिखाने का तीन दिवसीय विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम देहरादून के पुलिस लाइन में बुद्धवार संपन्न हुआ.इस विशेष सेल्फ डिफेंस ट्रेनिंग प्रोग्राम में राज्य के सभी जनपद थानों में गठित गौरा शक्ति टीम की महिला पुलिस जवानों ने हिस्सा लिया.अब Self Defence Master Training प्राप्त 35  महिला पुलिस कर्मी द्वारा अपने-अपने जनपद में आगामी मार्च से लेकर अप्रैल माह तक सम्बंधित पुलिस लाइन के अलावा स्कूल- कॉलेजों जैसे संस्थानों में जाकर  सेल्फ डिफेंस की ट्रेंनिग को निशुल्क रूप में दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें 👉  Street Crime घटना का 48 घंटे के अंदर दून पुलिस ने किया खुलासा…लूट का माल बरामद कर वारदात को अंजाम देने वाले 02 शातिर अभियुक्त गिरफ्तार..चोरी की स्कूटी में मोटरसाइकिल का नम्बर लगाकर लूट की घटनाएं..

 रोजमर्रा की वस्तुओं का उपयोग कर सेल्फ डिफेंस के गुर

बता दें कि महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा को लेकर उत्तराखण्ड पुलिस की थाना स्तर पर गठित टीम गौरा की 35 महिला पुलिस कर्मियों को Self Defence Master Training Programme के अन्तर्गत देहरादून पुलिस लाईन में 20 फरवरी से 22 फरवरी 2023 तक आत्मरक्षा तकनीक का प्रशिक्षण प्रदान किया गया.इसके अन्तर्गत महिला पुलिस कर्मियों को रोजमर्रा की वस्तओं जैसे पेन,मोबाइल, रूमाल,दुपट्टा,चूड़ी आदि को हथियार बनाकर आत्मरक्षा करने एवं Smart Self Defence के अन्तर्गत स्मार्ट स्किल से आत्मरक्षा करने के लिए विशेष तौर पर प्रशिक्षित किया गया.ऐसे में प्रशिक्षित पुलिस कर्मियों द्वारा अपने-अपने जनपदों में गौरा टीम में नियुक्त अन्य महिला कर्मियों के साथ-साथ स्कूल/कालेज/ग्राम/मौहल्लों में जाकर महिलाओं एवं बालिकाओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा.

यह भी पढ़ें 👉  *कांग्रेस शरणम गच्छामि* 5 दिन फजीहत के बाद, हरक को हरी झंडी. कांग्रेस में हुए शामिल, लेकिन टिकट पर सस्पेंस बरकरार…

एडवांस ट्रेंनिग में मार्शल आर्ट  बांक्सिग को शामिल किया जाएगा:DGP

 पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने कहा कि मिशन गौरा शक्ति केवल एक पुलिस एप्प नहीं अपितु उत्तराखण्ड पुलिस एप्प का हिस्सा है. मिशन गौरा शक्ति के अन्तर्गत विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाना है. जिसमें महिलाओं को आत्मरक्षा की ट्रैनिंग देना. प्राप्त शिकायतें का समय से निस्तारण किया जाना. स्कूल/कालेजों में जाते वक्त जिन क्षेत्रों में महिलाओं/लडकियों के साथ छेडछाड होती है, उन क्षेत्रों में फोकस करना,वहां पैट्रोलिंग बढाना ये सब इस मिशन के पार्ट है.DGP ने कहा कि उत्तराखण्ड पुलिस के जूडो,कराटे, बांक्सिग, ताइक्वोंडो के खिलाड़ियों को भी इस प्रशिक्षण से जोड़ा जाएगा. साथ ही महिला पुलिस कर्मियों के लिए आत्मरक्षा प्रशिक्षण का सेकंड लेवल एडवांस कोर्स का आयोजन किया जाएगा.ताकि आत्मरक्षा कोर्स में प्रतिभाग करने वाली महिला पुलिसकर्मी आत्मविश्वास से भरपूर हो.और दूसरे लोगों को भी बेहतर प्रशिक्षण दे सकें. DGP के अनुसार आत्मरक्षा प्रशिक्षण का सेकंड लेवल एडवांस कोर्स जल्द ही आयोजित किया जायेगा.ताकि इस प्रकार प्रशिक्षण प्राप्त करने के उपरान्त जनपदवार ट्रैनर्स का निर्धारण किया जाए.ऐसी व्यवस्था बनाई जाएगी जिसमें एक जनपद में कम से कम 5-6 ट्रेनर्स प्रशिक्षण के लिए उपलब्ध हो. वही आने वाले दिनों में स्कूल एवं कालेजों में भी आत्मरक्षा के प्रशिक्षण शिवरों का आयोजन किया जाएगा.

यह भी पढ़ें 👉  *उत्तराखंड में आज फिर कोरोना ने तोडा कई महीनों का रिकॉर्ड* प्रदेश में कोरोना की बढ़ती रफ्तार, मौत के आंकड़ों में भी तेजी. आज सबसे ज्यादा मामले देहरादून और नैनीताल जिले से. *जानिए अपने जिले की स्थिति*

बाइट: अशोक कुमार, पुलिस महानिदेशक उत्तराखंड

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें