51 लाख क़ीमत की ड्रग्स के साथ नाबालिग लड़की सहित उत्तराखंड रोड़वेज बस ड्राइवर गिरफ्तार.. 

देहरादून: थाना सहसपुर के अंतर्गत छोटा रामपुर इलाके के नीना फार्म हाउस के पास से मुखबिर तंत्र की सूचना के आधार पर पुलिस ने एक नाबालिक लड़की सहित 02 नशा तस्करों को बेशकीमती हेरोइन ड्रग्स के साथ गिरफ्तार किया है. पुलिस के गिरफ्त में आए दोनों तस्करों के कब्जे से 512 ग्राम हेरोइन बरामद की हैं,जिसका बाजारी मूल्य 51 लाख रुपये से अधिक आंका गया है. दोनों ड्रग्स तस्करों के कब्जे से बैटरी युक्त इलेक्ट्रॉनिक मिनी तराजू और एक मोटर साइकिल संख्या UK16B /1720 भी बरामद की है जिससे अवैध ड्रग्स की सप्लाई की जाती थी. पुलिस ने इस मामले में एनडीपीसी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर कोर्ट कार्रवाई की है.

यह भी पढ़ें 👉  “PRIDE OF DOON AWARD" से नवाज़े गए देहरादून SSP-अजय सिंह…कानून व्यवस्था बेहतर करने एवं पीड़ित केंद्रित पुलिसिंग को सम्मान…

उत्तराखंड रोडवेज में संविदा बस चालक गिरफ्तार तस्कर

पुलिस के अनुसार हेरोइन तस्करी में लिप्त गिरफ्तार सुरेंद्र कुमार पुत्र रूद्र पाल सिंह मूल रूप से उत्तर प्रदेश के बिजनौर थाना रेहड़ अमन नगर अफजलगढ़ का रहने वाला है.वर्तमान समय में अभियुक्त सुरेंद्र कुमार उत्तराखंड रोडवेज बस में संविदा कर्मी के तौर ड्राइवर है जो टनकपुर डिपो से देहरादून के बीच बस चलाता है.

पुलिस खुलासे के अनुसार नशा तस्करी के धंधे में संलिप्त 17 साल की नाबालिग लड़की उधम सिंह नगर के जसपुर नई बस्ती की रहने वाली है. जांच पड़ताल में पता चला नाबालिग अभियुक्ता इससे पहले भी 2023 में ही नशा तस्करी के आरोप में जेल जा चुकी है.

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून SSP की फोटो को कूटरचित तरीके से विज्ञापन के माध्यम से प्रसारित करने वाले प्रॉपर्टी डीलर को पुलिस ने किया गिरफ्तार..पूर्व में भी अलग-अलग थानों में धोखाधड़ी के मुकदमें दर्ज:पुलिस
बाइट:दलीप सिंह कुँवर,DIG/SSP देहरादून.

नाम पता गिरफ्तार अभियुक्त

1- सुरेंद्र कुमार पुत्र रूद्र पाल सिंह निवासी अमन नगर अफजलगढ़ पोस्ट व थाना रेहड जनपद बिजनौर उत्तर प्रदेश..

2- फुरकाना (काल्पनिक नाम) निवासी धर्मकांटा चौकी के पीछे नई बस्ती जसपुर थाना जसपुर जिला उधम सिंह नगर..

पिता के देहांत के बाद आर्थिक तंगी के चलते ड्रग्स तस्करी में आई:नाबालिग 

पुलिस खुलासे के मुताबिक ड्रग्स तस्करी में गिरफ्तार अभियुक्ता फुरकाना (काल्पनिक नाम) ने पूछताछ में बताया कि पिता के देहांत होने के बाद घर का खर्च चलाना और भाई का इलाज कराना मुश्किल हो गया था.यही कारण रहा कि पड़ोस में रहने वाले सुरेंद्र के साथ मिलकर वह लोग उत्तर प्रदेश बरेली के मीरगंज इलाकें से हेरोइन एकत्रित कर सहसपुर सेलाकुई में फूटकर में बेचने आए थे. पुलिस को  दोनों अभियुक्त पूछताछ में बरेली मीरगंज के कुछ बड़े हेरोइन ड्रग्स तस्करों के संबंध में जानकारी मिली है. जिनके आधार पर सक्रिय तस्कर को चिन्हित कर आगे की वैधानिक कार्रवाई जारी है..

यह भी पढ़ें 👉  दून पुलिस ने क्रूरता की सारी हदें पार की,चोरी शक के आधार पर महिला पर जानलेवा थर्ड डिग्री, हालत चिंताजनक, चौकी प्रभारी सस्पेंड

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें