गुंडागर्दी की इंतहा:थाना प्रभारी सहित पुलिसकर्मियों पर जानलेवा हमला,आरोपित रिटायर्ड फौजी समेत तीन बाउंसर बेटों को गिरफ्तार कर संगीन धाराओं में भेजा जेल.. 

देहरादून: थाना क्लेमेंन टाउन प्रभारी सहित महिला और अन्य पुलिसकर्मियों पर अचानक जानलेवा हमला करने वाले मामले में आरोपित पूर्व फौजी समेत उनके तीन बाउंसर बेटों को धारा 307 जैसे गंभीर धाराओं में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है. इतना ही नहीं इस दुस्साहस के लिए जेल भेजे गए अभियुक्त धन सिंह फर्त्याल पुत्र स्व- दिवान सिंह (निवासी सुसायटी एरिया निकट सेंट मैरी चौक सुभाष नगर ) और उनके पुत्रगण विनय फर्त्याल,अरूण फर्त्याल व वरूण फर्त्याल के खिलाफ थाने में जान लेवा हमला करने और शिकायतकर्ताओं को जान से मारने के प्रयास मामले में दो अलग-अलग मुकदमे दर्ज करने सहित गुंडा एक्ट में कड़ी कार्रवाई भी की गई है.

मामूली सी बात पर पुलिस और शिकायतकर्ताओं पर जानलेवा हमला..

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार थाना क्लेमेंन टाउन क्षेत्र में किराए के एक मकान पर रहने वाले राजस्थान निवासी 2 स्टूडेंट्स शनिवार  दोपहर लगभग 1:30 बजे घबराए हुए थाने पहुंचे. छात्रों ने प्रार्थना पत्र देते हुए बताया कि उनके मकान मालिक के तीन बॉडी बिल्डर बाउंसर बेटे मामूली सी बात को लेकर उनके खून के प्यासे हैं.छात्रों ने बताया कि जिस किराए के कमरे में वह लोग रहते हैं,उनसे उस कमरें का ताला टूटने और कुछ तोड़फोड़ हो गई है.बस इसी मामूली सी बात को लेकर मकान मालिक के बेटे उनको नुकसान होने का गुस्सा दिखाते हुए धमकी देकर पीटने के लिए उन्हें लगातार ढूंढ रहे हैं..इसी शिकायत को लेकर जब दोनों छात्र शनिवार दोपहर थाने पहुंचे तो उनके पीछे कुछ देर बाद मकान मालिक (पूर्व फौजी) और उनके तीन बाउंसर बेटे भी थाने आ धमके. शिकायत पत्र के आधार पर थाना प्रभारी शिशुपाल राणा ने इस मामूली सी बात को लेकर दोनों पक्षों को समझाने का प्रयास करते हुए मकान मालिक के नुकसान की भरपाई करने के लिए छात्रों को राजी कर शांति समझौता करा दिया.बस इसके बाद दोनों पक्ष थाने से बाहर निकल गए.लेकिन कुछ ही देर में पूर्व फौजी के तीनों बाउंसर बेटों ने दोनों छात्रों के साथ फिर से कहासुनी करते हुए थाने के पास ही उनसे मारपीट करना शुरू कर दिया.इसी बीच पीटने वाला एक छात्र जैसे ही दौड़ता हुआ थानेदार के कमरें में बचने के लिए आया तो उसके पीछे तीनों बाउंसर भी वहाँ आ गए.इसके बाद गुंडागर्दी की हदें पार करते हुए पूर्व फौजी के बाउंसर बेटों ने थाना प्रभारी शीशपाल राणा पर भी लात-घूसों से वार करते हुए उनके सिर पर कार की नुकीली चाबी से चोट मार लहूलुहान कर दिया.इतना ही नहीं इस दौरान बीच-बचाव करने आए एक दरोगा और एक सिपाही पर भी तीनों बाउंसर ने जबरदस्त प्रहार कर जानलेवा हमला कर दिया. हद तो तब हो गई जब इस पूरी घटना का वीडियो बनाने वाली एक महिला पुलिसकर्मी पर भी बाउंसरों ने हमला कर उसका मोबाइल छीन उसके हाथ और अंगूठा मोड़कर उन्हें घायल कर दिया.  गुंडागर्दी की हदें पार करने वाले पूर्व फौजी के तीनों बाउंसर बेटों का आतंक देख एकाएक वायरलेस सेट से सूचना देकर मौके पर फोर्स बुलाई गई.इसके बाद आरोपी चारों लोगों को काबू में किया गया.

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी ख़बर:AIIMS डॉक्टरों की मिलीभगत से चलने वाले नकल माफिया गिरोह का दून ने किया पर्दाफाश..ऑल इंडिया स्तर पर  आयोजित MD परीक्षा में नकल कराते एम्स डॉक्टर सहित हरियाणा-पंजाब मूल 05 मुन्नाभाई गिरफ्तार… प्रत्येक परीक्षार्थी से 50 लाख रुपये में डील..
वीडियो आरोपी

थाने में फ़ोर्स न होने के चलते हावी हुए बाउंसर

जानकारी के अनुसार थाना क्लेमेंन टाउन में सामान्य दिनों की अपेक्षा इन दिनों  पुलिस फोर्स की कमी होने के कारण भी यह घटना हुई.दरसल इन दिनों कावड़ यात्रा के कारण हर थाने-चौकी की फोर्स हरिद्वार व ऋषिकेश कावड़ यात्रा ड्यूटी पर लगाई गई है. यही कारण है कि अन्य थानों की तरह क्लेमेंन टाउन थाने में भी फोर्स की भारी कमी रही. जिसके चलते यह घटना कारित हुई.

यह भी पढ़ें 👉  भू-माफियाओं के खिलाफ दून पुलिस कप्तान का सख़्त एक्शन जारी..प्रॉपर्टी धोखाधडी में लिप्त 05 अभियुक्तों को गैंगस्टर एक्ट में  गिरफ्तार कर ज़ेल भेजा..

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें