उत्तरकाशी में बादल फटने से मुसीबतें बढ़ी,स्थानीय लोगों के अलावा स्कूल में फंसे 150 बच्चों को SDRF ने किया रेस्क्यू..ग़नीमत कोई जनहानि नहीं..

उत्तरकाशी: पुरोला तहसील में हो रही है लगातार भारी बारिश के चलते बीती रात लगभग 2 बजे के आसपास बादल फटने जैसी घटना से जगह-जगह जलभराव एवं मलवा आने स्थानीय लोगों की मुसीबतें बढ़ गई हैं.भारी बारिश के कारण पहाड़ियों का मलवा आने से आधा दर्जन से भी अधिक मुख्य मार्ग हुए बंद हो गए हैं. छोटे-छोटे बाजार की दुकानों सहित कई वाहन मलवे में फंस गए है. एसडीएम पुरोला ने सरकारी एवं गैर सरकारी सभी स्कूलों की छुट्टी घोषित कर दी हैं.उधर यमुनोत्री नेशनल हाईवे में पिछले 10 घंटे से भी ज्यादा समय से बारिश के कारण धरासू बैंड के पास भारी मलबा आने से यमुनोत्री नेशनल हाईवे धरासू बैंड, छटांगा,गंगनानी,बड़कोट,सहित कई स्थानों नेशनल हाईवे बंद हो गए हैं..भारी बारिश के कारण कई जगह जलभराव की स्थिति लोगों को SDRF राहत बचाव दल द्वारा सुरक्षित जगह पर पहुंचाया गया हैं.

यह भी पढ़ें 👉  फ़र्जी कागज़ तैयार कर करोडों संपत्ति बेचने वाले गिरोह का मास्टरमाइंड गिरफ्तार,कांग्रेस नेता सहित लगभग एक दर्जन आरोपी रडार पर,इस कारण अब ये बेशकीमती  प्रॉपर्टी होगी सरकार में निहित..

स्कूल में फंसे 150 बच्चों की किया गया रेस्क्यू..

वही दूसरी तरफ उत्तरकाशी बड़कोट गंगनानी में भी भारी बारिश के कारण कस्तूरबा इंटर कॉलेज में अत्यधिक मलवा आने से स्कूल में 150 से अधिक बच्चें फ़ंसे होने की भी सूचना मिली.आपदा प्रबंधन द्वारा दी गई सूचना के तत्काल बाद ही SDRF राहत-बचाव दल ने कस्तूरबा इंटर कॉलेज पहुंचकर सभी छात्र छात्राओं को रेस्क्यू कर सुरक्षित स्थानों में पहुंचाया.साथ ही रात्रि तीन बजे स्थानीय व्यवसायिक होटलों,दुकानों एवं आस पास के घरों से सभी लोगो को बढ़ते खतरे के कारण तुंरत स्थान छोड़ने का आग्रह करते हुए सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया. आपदा प्रबंधन और SDRF द्वारा समय रहते किये गए राहत बचाव उपायों से किसी भी प्रकार की कोई जनहानि नही हुई.फ़िलहाल सभी लोग सुरक्षित है और SDRF टीमों द्वारा लगातार राहत बचाव कार्य किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें 👉  भारत सरकार का "फॉर एक्सीलेंस इन्वेस्टिगेशन अवॉर्ड : ऑनर किलिंग करने वालों को मृत्युदंड दिलाने वाले कर्मठ उत्तराखंड सब-इंस्पेक्टर भगवान सिंह महर को गृह मंत्रालय का मेडल फॉर एक्सीलेंस इन्वेस्टिगेशन सम्मान...

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें