देहरादून: करोडों रुपये चोरी मामलें में दिल्ली पुलिस के सब-इंस्पेक्टर से भी जुड़े तार !.. पिता को दून पुलिस ने यूपी से गिरफ्तार कर 48 लाख नकद किये बरामद…अब तक 3 करोड़ 8 लाख रुपये बरामद..

देहरादून: थाना रायपुर के अंतर्गत न्यू डिफेंस कॉलोनी में हुए सनसनीखेज करोड़ों रुपए चोरी मामले में फ़रार चल रहे अभियुक्त धीरज के पिता भूदेव सिंह को दून पुलिस ने चोरी की रकम 48 लाख रुपये के साथ उत्तर प्रदेश के बड़ौत (बागपत-यूपी)वाजिदपुर गांव से गिरफ्तार किया है.हालांकि अभी वारदात का सूत्रधार धीरज काफ़ी सारा रूपया लेकर फरार चल रहा है.दून पुलिस से अनुसार फ़रार धीरज का छोटा भाई नीरज सिंह दिल्ली पुलिस में सब-इंस्पेक्टर हैं.. ..करोड़ो रूपये चोरी के इस मामले में देहरादून पुलिस अब तक दो लोगों को गिरफ्तार कर 3 करोड़ 8 लाख रुपए बरामद कर चुकी है इससे पहले मेरठ निवासी सन्नी नाम के प्रॉपर्टी ब्रोकर को 02 करोड़ 60 लाख रुपए के साथ रायपुर पुलिस ने सहस्त्रधारा इलाके से 21 अगस्त 2023 को गिरफ्तार किया था.फ़िलहाल सन्नी देहरादून सुद्धोवाला जेल में बंद है..

यह भी पढ़ें 👉  भीड़ का फायदा उठाकर वांटेड ने एसएसपी संग खिंचाई फोटो,अब जाएगा जेल.. सोशल मीडिया पर भी पैनी नजर:SSP
बाइट:सरिता डोबाल, SP City देहरादून.

पुलिस के अनुसार चोरी के रकम 48 लाख रुपए के साथ गिरफ्तार किए गए फरार अभियुक्त धीरज के 62 वर्षीय पिता भूदेव सिंह ने पूछताछ में बताया कि उसके दो पुत्र हैं.जिसमे से धीरज अपने पत्नी बच्चों के साथ बड़ौत गांव में खेती-बाड़ी करता है.जबकि छोटा पुत्र नीरज सिंह दिल्ली पुलिस में कार्यरत है.

गिरफ्तार अभियुक्त

 भूदेव सिंह पुत्र प्रीतम सिंह निवासी ग्राम वाजिदपुर, थाना बड़ोत, जनपद बागपत, उत्तर प्रदेश,उम्र 62 वर्ष.

बरामद की 48 लाख रुपए नगद

चोरी की रकम ठिकाने लगाने में दिल्ली पुलिस सब-इंस्पेक्टर की भूमिका पर भी सवाल !

देहरादून पुलिस के मुताबिक करोड़ों रुपए चोरी मामलें जेल जा चुका सन्नी का फ़रार सहयोगी धीरज वारदात को अंजाम देने के बाद काफ़ी सारा रुपया लेकर पहले अपने गृह क्षेत्र बड़ोत वाजिदपुर गांव पहुंचा,जहां उसने 48 लाख का केश अपने पिता के साथ मिलकर खेत में छुपाया.जबकि इससे कई अधिक रुपया अपने साथ लेकर धीरज कहीं बाहर फ़रार हैं .जांच पड़ताल में पता चला कि धीरज का छोटा भाई नीरज दिल्ली पुलिस में सब इंस्पेक्टर है और वह नरेला (दिल्ली) के सरकारी आवास में रहता है. ऐसे में सब-इंस्पेक्टर नीरज की इस मामले में क्या भूमिका है. इसकी भी दून पुलिस पड़ताल कर रही है.देहरादून एसपी सिटी सरिता डोबाल के मुताबिक धीरज की गिरफ्तारी के उपरांत थी उसके भाई नीरज की भूमिका की सच्चाई सामने आ सकती हैं.

यह भी पढ़ें 👉  कबूतरबाजी में STF का शिकंजा: विदेश में नौकरी का झांसा देकर 10 लाख हड़प फर्जी वीजा-टिकट थमाया,उत्तराखंड से लेकर मध्यप्रदेश तक कबूतरबाजी का जाल,आरोपी पंजाब से गिरफ्तार..

अभी काफी रुपया रिकवर होने की उम्मीद : पुलिस

बता दें कि थाना रायपुर के अंतर्गत न्यू डिफेंस कॉलोनी विश्वनाथ एनक्लेव निवासी शिकायतकर्ता मीनू गोयल के घर पर 18 अगस्त 2023 की करोड़ों रुपए की चोरी का मामला सामने आया.पुलिस ने इस केस को वर्कआउट कर सबसे पहले शिकायतकर्ता मीनू गोयल के पहचान वाले मेरठ निवासी सन्नी नाम के प्रॉपर्टी ब्रोकर को 21 अगस्त 2023 को देहरादून के सहस्त्रधारा (विश्वनाथ एनक्लेव) से गिरफ्तार किया था.अभियुक्त सन्नी कब्जे से चोरी किये गए रकम में से 02 करोड़ 60 लाख बरामद हुए थे. अब दून पुलिस वारदात को अंजाम देने वाले दूसरे अभियुक्त धीरज सिंह तलाश कर रही है.एसपी सिटी सरिता डोभाल के अनुसार ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि फरार चल रहे अभियुक्तों की गिरफ्तारी होने के उपरांत काफी सारा रुपया बरामद हो सकता है.क्योंकि इस केस में शिकायतकर्ता द्वारा अब तक स्पष्ट तौर यह नहीं बताया गया हैं कि उनका कितना रुपया चोरी हुआ हैं.

यह भी पढ़ें 👉  पाँच राज्यो में चुनाव कराने की तारीखों का हुआ ऐलान. प्रदेश में आज से आचार संहिता लागू. *जानिए कब,कँहा कितनी तारीख होगा मतदान*

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें