चारधाम यात्रा के नाम श्रद्धालुओं से ऑनलाइन ट्रैवल एजेंसी की 90 हजार की ठगी,हरिद्वार पुलिस ने सूद सहित रक़म वापस दिलवाई.राहत पाए यात्रियों ने आभार व्यक्त कर उत्तराखंड पुलिस को किया दिल से सलाम.

हरिद्वार: चारधाम यात्रा में आए श्रद्धालुओं के चेहरे पर एक बार खुशी लाने का काम उत्तराखंड मित्र पुलिस ने किया है.जीहां ऑनलाइन चारधाम यात्रा बुकिंग के नाम पर ज्वालापुर स्थित एक कथित ट्रैवल एजेंसी द्वारा महाराष्ट्र (पुणे)के श्रद्धालुओं से 90 हज़ार की ठगी का मामला आया था.ऐसे में न्यूज़ पोर्टल के जरिए स्वतः संज्ञान लेते हुए हरिद्वार पुलिस ने न सिर्फ़ इस ठगी के विषय में त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपी ट्रैवल एजेंसी संचालक को हिरासत में लिया.बल्कि ठगी के शिकार परेशान यात्रियों को 90 हजार रुपए के अलावा 20 हजार रुपये सूद सहित वापस भी दिलवाए.मित्र पुलिस के इस सराहनीय कार्य को देखते हुए राहत पाने वाले महाराष्ट्र के श्रद्धालुओं और यात्रियों ने उत्तराखंड पुलिस जमकर तारीफ करते हुए दिल आभार व्यक्त कर देवभूमि पुलिस को सलाम किया.

यह भी पढ़ें 👉  भर्ती परीक्षा विरोध आंदोलन:जेल में बंद बॉबी पंवार सहित सभी 7 लोगों को सशर्त मिली जमानत.कोर्ट ने जमानत देने पर इन शर्तों को भी लगाया.
ठगी की बात बताते महाराष्ट्र के यात्री

GST बचाने के चलते व्यक्तिगत अकाउंट में ट्रांसफर की रुपए

जानकारी के अनुसार चारधाम यात्रा में महाराष्ट्र से आए कुछ यात्रियों ने GST बचाने के चलते ऑनलाइन व्यक्तिगत एकाउंट नंबर पर 90 हज़ार रुपये ट्रांसफर कर यात्री वाहन एवं होटल बुकिंग की थी. लेकिन कथित ट्रैवलर एजेंसी ने अपनी सम्पर्क सूत्र (मोबाइल नम्बर) को बुकिंग के रुपये लेते ही ऐन मौके पर बंद कर दिया.इस ठगी की जानकारी हरिद्वार पुलिस को यमुनोत्री के एक वेब न्यूज पोर्टल द्वारा कवरेज खबर के माध्यम से मिली.ऐसे में मामले की गंभीरता को देखते हुए हरिद्वार एसएसपी अजय सिंह के निर्देश पर चौकी प्रभारी रेल SI सुधांशु कौशिक ने व्यक्तिगत रूप से ठगी के शिकार हुए यात्रियों से सम्पर्क किया.इसके बाद पुलिस ने अपनी गहन जांच पड़ताल में ठगी वाले खाते में पैसे न होने व लिंक मोबाइल नंबर बंद आने पर केवल एक तस्वीर के जरिए पहले खाताधारक और तत्पश्चात ठगी करने वाले युवक तक पहुँची.

यह भी पढ़ें 👉  नाबालिग लड़की को मानव तस्कर के चंगुल से छुड़ाने में हरिद्वार पुलिस को मिली सफलता,गिरफ्तार अभियुक्त के मोबाइल डिटेल से कई सफेदपोशों पर आ सकती है कार्यवाही आंच..

व्यापार में घाटे के चलते की ठगी:आरोपी

पुलिस पूछताछ में आरोपी ने बताया कि व्यापार घाटे के चलते उसने इस ठगी की घटना को अंजाम दिया. उसने इस ठगी में इस्तेमाल किये खाताधारक को उक्त रकम के बदले ₹1000/- दिए थे.हरिद्वार पुलिस के हस्तक्षेप करने बाद आरोपित युवक ने यात्रियों को ₹90000 की रकम के साथ ही इस दौरान हुई परेशानी के बाबत ₹20000/- रुपए हर्जाने के तौर पर दिए. उधर ठगी की रकम वापस पाकर प्रसन्न दिखे यात्रियों ने खुले दिल से मित्र पुलिस की प्रशंसा करते हुए बताया कि उन्हे रकम वापस मिलने की उम्मीद नही थी. लेकिन हरिद्वार पुलिस ने बेहद कम समय में बेहद शानदार काम करते हुए उन्हे पूरी रकम और हर्जाना भी दिलवा दिया.ये वाकई देवभूमि पुलिस को सलाम करते हुए काबिले तारीफ है. वही इसके बाद राहत पाने वाले यात्रियों ने ठगी करने वाले ट्रैवल बुकिंग युवक का भविष्य खराब न करने की बात कहकर मुकदमा लिखे जाने से भी मना किया.

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी-बनभूलपुरा दंगा-फ़साद मामलें में नैनीताल पुलिस ने 05 और उपद्रवियों को किया गिरफ्तार..बनभूलपुरा क्षेत्र को छोड़कर अन्य इलाकों से कर्फ्यू हटा..घटना से ज़ुड़े अन्य अभियुक्तों की धरपकड़ में दिन-रात पुलिस जुटी…

हमारा व्यक्तिगत प्रयास उत्तराखंड आने वाली यात्री अच्छी यादें लेकर जाएं:SSP हरिद्वार

वहीं इस पूरे मामले में हरिद्वार एसएसपी अजय सिंह ने कहा कि ये हमारा व्यक्तिगत प्रयास है कि उत्तराखंड आ रहा यात्री यहां से अच्छी यादें लेकर जाए.हमें खुशी है कि हम इनकी मदद कर पाए.

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें