देवबंद में छुपे बैठे वांटेड अपराधी को दबोच लायी दून पुलिस…लॉ कॉलेज के बाहर छात्रा से छेडछाड कर जानलेवा हमला कर फ़रार.था अभियुक्त…

गिरफ्तारी के डर से अभियुक्त देवबंद में पनाह लिए था: पुलिस

02 अभियुक्तों को घटना वाले दिन  गिरफ्तार कर भेजा जा चुका है जेल…

देहरादून: थाना रायपुर के अंतर्गत सिद्धार्थ लॉ कॉलेज के सामने छात्रा के साथ छेड़छाड़ कर जानलेवा हमला करने और पत्थरबाजी प्रकरण का फ़रार चल रहे अभियुक्त को आखिरकार दून पुलिस कड़ी मशक्कत कर बाद सहारनपुर के देवबंद से गिरफ्तार कर लिया हैं.पुलिस के अनुसार पकड़ा गया अभियुक्त मंयक चौधरी अपनी गिरफ्तारी के डर से घटना कारित करने के बाद से देवबंद में छुपा बैठा था.वही इससे पहले घटना कारित होने वाले दो अन्य अभियुक्तों को पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेजे चुकी हैं.

छेड़छाड़ का विरोध करने पर अभियुक्तों ने किया जानलेवा हमला

यह भी पढ़ें 👉  दुःखत: त्यूणी क्षेत्र में गहरी खाई में कार गिरने से 06 लोगों की दर्दनाक मौत.. गंभीर रूप से घायल 01 व्यक्ति को SDRF ने किया रेस्क्यू…

 पुलिस के अनुसार बीते 26 अप्रैल 2024 को सिद्धार्थ लॉ कॉलेज में अध्यनरत छात्रा ने थाना रायपुर में आकर एक प्रार्थना पत्र दिया.छात्रा ने अपने शिकायत पत्र में बताया कि उसे दो युवकों द्वारा कॉलेज जाते वक्त सड़क पर रोककर एक मोबाईल नम्बर देकर बातचीत करने को कहा गया.लेकिन जब उसके द्वारा मना किया गया तो दोनों युवक उसे परेशान करने लगे.इसके बाद उसकी स्कूटी पंचर कर दी.इतना ही इसके बाद जब वह 26 अप्रैल 2024 को कॉलेज आ रही थी तो कॉलेज के बाहर दोनों युवकों द्वारा अपने मित्रों के साथ छात्रा और उसके भाईयों सहित अन्य साथियों पर जानलेवा हमला किया गया..ऐसे में घटना की गंभीरता को देखते हुए छात्रा के प्रार्थना पत्र के आधार पर तत्काल मुक़दमा पंजीकृत किया गया..

यह भी पढ़ें 👉  CM पुष्कर सिंह धामी पहुंचे राज्य आपदा प्रबंधन कन्ट्रोल रूम,राज्य में लगातार बारिश स्थिति को देखते हुए सम्बंधित विभागों को एकदम अलर्ट रहने के निर्देश.चार धाम यात्रा पर विशेष ध्यान.

वही प्रकरण की संवेदनशीलता के दृष्टिगत एसएसपी देहरादून द्वारा अभियुक्तों की गिरफ्तारी को लेकर टीम गठित कर आवश्यक निर्देश दिए गये.इसी क्रम पुलिस टीम द्वारा त्वरित कार्रवाई कर घटना में शामिल 02 अभियुक्तों आदित्य राणा व भूपेश कुमार को गिरफ्तार कर जेल भेज गया.इसके बाद केस की विवेचना में प्रकाश में आये एक अन्य अभियुक्त मयंक चौधरी की गिरफ्तारी के लिए उसके सभी सम्भावित ठिकानों पर पुलिस टीम द्वारा दबिश दी गई.लेकिन गिरफ्तारी से बचने के लिये अभियुक्त लगातार अपने छिपने के ठिकाने बदलता रहा.. वही इसी बीच सक्रिय मुखबिर तंत्र से सूचना मिली कि अभियुक्त सहारनपुर के देवबंद में कही छुपा बैठा.इसी सूचना पर लगातार काम करते हुए पुलिस टीम द्वारा किये गये लगातार प्रयासों के परिणाम स्वरूप अभियुक्त मयंक चौधरी को देवबन्द (सहारनपुर) से ट्रेक कर 24 मई 2024 को गिरफ्तार किया गया..पुलिस के कार्रवाई पर  सिद्धार्थ लॉ कॉलेज द्वारा अभियुक्त मयंक चौधरी व अभियुक्त जयंत को कॉलेज से निष्कासित किया गया..  

यह भी पढ़ें 👉  Uksssc पेपर लीक मामलें में अब  राजकीय पॉलिटेक्निकल का कर्मचारी राजवीर गिरफ्तार, हरिद्वार अभ्यर्थियों को लीक कराया था पेपर..

गिरफ्तार अभियुक्त

01- मयंक चौधरी पुत्र संजीव चौधरी निवासी ग्राम चंदेना थाना नागल जिला सहारनपुर (यूपी)

पूर्व में गिरफ्तार अभियुक्त

01-आदित्य पुत्र नीरज निवासी भारीदीनदार पुरम तहसील रामपुर थाना ननौता सहारनपुर (यूपी).

02-भूपेश कुमार पुत्र रघुवीर सिंह निवासी ग्रामं बनौसा तहसील गोहपा थाना बरौदा जिला सोनीपत हरियाणा.

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें