आपराधियों पर शिकंजा कसने का 2 माह का विशेष अभियान:791 गिरफ्तारी,60 की कुर्की,52 गैंगस्टर की संपत्ति रिपोर्ट,215 की संपत्ति पर अधिग्रहण कार्रवाई प्रचलित..

उत्तराखंड पुलिस विभाग द्वारा बीते 1 दिसंबर 2022 से 31 जनवरी 2023 तक विशेष तौर फरार इनामी व गैंगस्टर सहित NDPS अपराधियों के खिलाफ चलाए गए  विशेष अभियान को प्रभावी कार्यवाही के बावजूद अभी नाकाफ़ी माना जा रहा हैं.. यही कारण हैं कि अभी इस विशेष अभियान को एक माह (फरवरी) तक के लिए बढ़ाया गया हैं. ताकि इनामी अपराधियों की और धरपकड़ सहित अवैध क्रियाकलाप के रूप से अर्जित संपत्तियों को गैंगस्टर एक्ट 14 (1) के तहत अधिग्रहण किया जा सके..वही बात करें पिछले दो माह( दिसम्बर-जनवरी) की तो उत्तराखंड पुलिस रिकॉर्ड अनुसार  फरार वांछित व इनामी अपराधियों की गिरफ्तारी एवं एनडीपीएस एक्ट सहित गैंगस्टर एक्ट में अवैध सम्पत्ति अधिग्रहण करने की तो अभियान के दौरान जहां एक तरफ 791 वांटेड अपराधियों को गिरफ्तार किया गया.तो वही 60 अभियुक्तों की संपत्ति कुर्क करते हुए 1013 वांछित अपराधियों को 41 (ए) द०प्र०सं० का नोटिस जारी कर कोर्ट हाजिर किया गया.वही अभियान के दरमियान कुल गिरफ्तारी में से 264 इनामी वांछित (वांटेड) अपराधियों की गिरफ्तारी की गई.

यह भी पढ़ें 👉  हादसा: शादी समारोह से लौटते वक़्त,मैक्स दुर्घटनाग्रत।14 लोग थे सवार..

 NDPS एक्ट के तहत नशा तस्करों की संपत्ति पर कार्यवाही..

इस अभियान के दौरान प्रदेश में सक्रिय नशा तस्करों पर भी कड़ा शिकंजा कसा गया. एनडीपीएस एक्ट में व्यवसायिक मात्रा से सम्बन्धित 14 ड्रग्स अपराधियों की लगभग 2 करोड़ 58 लाख रुपये की अवैध रूप से अजित की गई सम्पत्ति चिन्हित करके सक्षम प्राधिकारी दिल्ली को रिपोर्ट प्रेषित की गई हैं. इसमें से 1 अपराधी की लगभग 3.00 लाख की सम्पत्ति जब्त भी की जा चुकी है. बाकी 62 अपराधियों की सपंत्ति चिन्हीकरण की कार्यवाही प्रचलित है..

यह भी पढ़ें 👉  नशीली दवाओं के दो तस्कर STF की गिरफ्त में,लाखों की अवैध दवाएं बरामद,गिरफ्तार तस्कर D-फार्मा का छात्र.

माफियाओं पर गैंगस्टर एक्ट लगा  संपत्ति जब्त की कार्रवाई प्रचलित..

दो माह के इस विशेष अभियान के तहत  भू माफिया सहित अन्य संगठित अपराधियों पर भी गैंगस्टर का कड़ा शिकंजा कसा गया. पुलिस मुख्यालय के अनुसार गैंगस्टर एक्ट से सम्बन्धित 38 अपराधियों द्वारा आपराधिक गतिविधियों में लिप्त रहते हुए अवैध रूप से अर्जित की गई,लगभग 38 करोड़ 13 लाख रुपये की सम्पत्ति चिन्हित कर अधिग्रहण करने के रिपोर्ट जिलाधिकारियों को प्रेषित की गई है.जबकि 215 अपराधियों के अवैध सम्पत्ति चिन्हीकरण करने की कार्यवाही प्रचलित है.

यह भी पढ़ें 👉  4200 ग्रेड-पे: ASI को दो स्टार और मिलेंगी चौकी जिम्मेदारी...

पैरोल पर छुटे 300 फरार कैदियों पर भी कसेगा शिकंजा.

 पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार के अनुसार गम्भीर क़िस्म के अपराधियों के खिलाफ और अधिक प्रभावी कार्यवाही करने के दृष्टिगत अभियान को एक माह फरवरी तक के लिए बढ़ाया गया है. ताकि फरार वांछित व इनामी अपराधियों के अलावा एनडीपीएस एक्ट से सम्बन्धित अपराधियों और गैंगस्टर एक्ट से सम्बन्धित अपराधियों की अवैध सम्पत्ति ज़ब्त करने की कार्रवाई प्रभावी रूप से की जा सके..इतना ही नहीं दूसरी ओर कारागारों से पैरोल पर छूटने वाले फरार लगभग 300 बन्दियों के खिलाफ नियमानुसार वैधानिक कार्यवाही भी आगे के अभियान में की जायेगी.

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें