कांवड़ यात्रा को लेकर हरिद्वार पुलिस की नई पहल,कांवड़ यात्रियों के लिए मार्गदर्शक बनेगा जारी QR CODE SYSTEM..

पार्किंग, रूट डायवर्जन, सोशल मीडिया, खोया-पाया सहित कई जानकारी एक मंच पर..

कांवड़ यात्रियों को QR कोड के सम्बन्ध में जागरूक करने के लिए अन्य राज्यों के विभिन्न जनपदों में भी भेजी जा रही है हार्ड/सॉफ्ट कॉपी..

कांवड यात्रा 2023

हरिद्वार पुलिस ने नई पहल को धरातल पर उतारते हुए कांवड यात्रा 2023 में भोले भक्तों की सुविधा के लिए QR Code जारी किया है.इस 

QR Code स्कैन करते ही कांवड़ यात्रियों को निम्नलिखित सुविधाएं एक ही मंच पर बड़ी आसानी से उपलब्ध हो पाएंगी.

यह भी पढ़ें 👉  क्राइम: नशे के खिलाफ पुलिस की बड़ी कार्यवाही .भारी मात्रा में चरस के साथ एक अभियुक्त गिरफ्तार. मैदान से लेकर पहाड़ तक नशा तस्करों के सेंध..

1-रियल टाइम पार्किंग- पार्किंग तक आसान पहुंच के लिए रूट की समस्त जानकारी आपको आसानी से घर बैठे मिल पाएगी और जिस समय क्लिक किया जाएगा उस समय real-time पार्किंग की स्थिति नजर आएगी।

2- डायवर्जन- भीड़ का दबाव बढ़ने पर यदि रूट प्लान को चेंज कर डायवर्जन लागू किया जाता है तो उसकी जानकारी आपको QR Code स्कैन कर मिल जाएगी।

3- खोया-पाया- खोया पाया में गुमशुदा बच्चों की जानकारी एवं उनके परिजनों की जानकारी भी दी जाएगी जिसे स्कैन कर अपने किसी परिचित के खोने पर उसे आसानी से तलाश किया जा सकेगा।

यह भी पढ़ें 👉  शिकंजा: देहरादून SSP की सटीक रणनीति बनते ही 'White Collar Crime' के खिलाफ सख्त एक्शन शुरू...बिल्डर बनकर फ्लैट बेचने के नाम पर करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी करने वाले फ़रार गैंग को पंजाब से धरदबोचा..गैंगस्टर सहित दर्जनभर मुकदमें दर्ज.

4- सोशल मीडिया प्लेटफार्म- इस प्लेटफार्म के माध्यम से आप आसानी से कांवड़ मेले के दौरान सरकार पुलिस द्वारा जारी गाइडलाइंस एवं अन्य निर्देशों के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।

5- फोटो वीडियो गैलरी- यहां आप कांवड़ मेले के दौरान ली गई भोले के भक्तों की आकर्षक तस्वीरें और वीडियो देख पाएंगे।

यह भी पढ़ें 👉  White Collar Criminals पर दून पुलिस की एक और बड़ी कार्यवाही... थाईलैंड में निवेश कराने के नाम पर लोगों से करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी करने वाले गिरोह के मास्टरमाइंड पति-पत्नी हरियाणा से गिरफ्तार...

6- जिला दूरभाष संपर्क सूची- यहां पर आपको जनपद के सभी महत्वपूर्ण अधिकारीगण के मोबाइल नंबर एवं आने जानकारी बेहद आसानी से उपलब्ध हो जाएगी.

इस क्यूआर कोड की सॉफ्ट कॉपी नजदीकी जनपदों से (जहां से शिव भक्त आते हैं) को भेजी जा रही है एवं हार्ड कॉपी बॉर्डर पर आने वाले डाक गाड़ियों और आसपास के राज्यों में भेजी जा रही है।

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें