नृशंस हत्याकांड का हरिद्वार पुलिस ने किया 36 घंटे में खुलासा,जमीनी विवाद बना हत्या की वजह..

मैन्युअल पुलिसिंग,सटीक योजना व ताबड़तोड़ दबिशें देकर पकड़ा हत्यारोपी.

जमीनी विवाद बना हत्या की वजह, सगे भाई ने पाटल से उतारा मौत के घाट.

खून से सनी शर्ट व पाटल बरामद

परिवारिक विवाद में रंजिशन कोई ऐसा कदम न उठाए जो आजीवन कारावास जेल में रहना पड़े,टीम को त्वरित अनावरण और गिरफ्तारी पर 10 हजार का ईनाम दिया जाएगा:SSP हरिद्वार. 

थाना बहादराबाद (हरिद्वार)

खेलड़ी निवासी मृतक राजपाल सिंह की सनसनीखेज हत्या में प्रयुक्त पाटल व हत्या के दौरान हत्याभियुक्त द्वारा पहनी खून से सनी शर्ट बरामद करते हुए पुलिस टीम ने मृतक के भाई बाल सिंह को दबोचकर आक्रोशित जनता के गुस्से को काबू करने में कामयाबी हासिल की है.

यह भी पढ़ें 👉  रुद्रपुर में रातभर जारी रहा SDRF का रेस्क्यू ऑपरेशन, 80 ज़िन्दगियों को बचाया. संकट में फसे लोगो के लिए, किसी फरिश्ते से कम नही है ये जवान...

पुलिस के अनुसार 29.05.23 को खेत में शव मिलने की सूचना पर एसएसपी अजय सिंह समेत जनपद के तमाम आलाधिकारी एवं फारेंसिक टीम के साथ मौके पर पहुंचे थे. मृतक की पहचान राजपाल के तौर पर होने पर पुलिस टीम ने मौके से सैंपल सहित अन्य साक्ष्य एकत्रित करते हुए मृतक के पुत्र के प्रार्थनापत्र के आधार पर थाना बहादराबाद में बाल सिंह व उसके 02 पुत्रों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया था.

प्रकरण के जल्द खुलासे एवं आरोपियों की गिरफ्तारी के संबंध में SSP द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों पर पुलिस टीम ने मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया. थानाध्यक्ष बहादराबाद द्वारा की जा रही विवेचना के दौरान प्रकाश में आया कि मृतक राजपाल एवं प्रतिवादी बाल सिंह का जमीन को लेकर काफी समय से विवाद चल रहा था तथा आए दिन दोनों में जमीन के एक टुकड़े को लेकर कहासुनी होती रहती थी साथ ही यह बात भी निकल कर सामने आई कि घटना के तुरंत बाद विपक्षीगण घर में ताला लगाकर फरार हो गए थे. 

यह भी पढ़ें 👉  अवैध संबंध फिर बना हत्या का कारण,पत्नी ने प्रेमी संग मिलकर साजिशन पति को मौत के घटा उतारा,विवाहिता समेत प्रेमी गिरफ्तार.

इस जघन्य घटना को लेकर परिजनों एवं ग्रामीणों में दिख रहे आक्रोश तथा बढ़ते दबाव के बीच टीम ने अभियुक्तों के मोबाइल नंबर बंद होने पर मैन्युअली काम करते हुए मुखबिर की सूचना पर अभियुक्त को बीती शाम थाना क्षेत्र से दबोच लिया.मृतक राजपाल व अभियुक्त बाल सिंह के बीच आधा बीघा जमीन कब्जाने और खेत में जाने के रास्ते को बंद करने को लेकर अक्सर दोनों भाइयों के बीच विवाद चलता रहता था. जिस कारण बाल सिंह ने अपने भाई राजपाल को ठिकाने लगाने का मन बनाकर दिनांक 29.05.23 की दिन दोपहरी में मौका पाकर खेत में अकेले काम कर रहे राजपाल को पाटल से वार करते हुए मौत के घाट उतार दिया एवं पाटल को झाड़ियों में छुपा कर मौके से भाग गया। प्रकरण में अन्य की संलिप्तता के संदर्भ में विवेचना जारी है.

यह भी पढ़ें 👉  मसूरी LBS में प्रशिक्षण लेने आये बांग्लादेशी अधिकारी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत !

अभियुक्त का विवरण-

बाल सिंह पुत्र अतुर सिंह निवासी खेलड़ी.

बरामदा माल-

1-हत्या में प्रयुक्त पाटल 

2-खून से सनी अभियुक्त की शर्ट .

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें