UKSSSC पेपर लीक प्रकरण में अब RMS सुपरवाइजर की संपत्ति ज़ब्त कार्यवाही शुरू..

देहरादून:उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UKSSSC) 2021 पेपर लीक मामले में अब लखनऊ स्थित RMS कम्पनी के सुपरवाईजर अभियुक्त विपिन बिहारी संपत्ति ज़ब्त की कार्रवाई शुरू कर दी गई है. गैंगस्टर एक्ट के तहत एसटीएफ में अभियुक्त विपिन बिहारी की लगभग एक करोड़ चल अचल संपत्ति का आंकलन लगाया है..STF ने विस्तृत रिपोर्ट तैयार करते हुए जिलाधिकारी देहरादून को जब्तीकरण के लिए प्रेषित की गई है.STF गैंगस्टर अभियुक्त विपिन बिहारी की UKSSSC परीक्षा पेपर लीक के अलावा वर्ष 2015-16 में आयोजित दरोगा भर्ती परीक्षा और वीडीओ परीक्षा में भी मुख्य भूमिका का आरोपी हैं..

2015-16 के उपरांत जमा की गई विपिन बिहारी की संपत्ति आयी ज़ब्त के दायरे में:STF

STF एसएसपी आयुष अग्रवाल के अनुसार गैंगस्टर अधिनियम की धारा-14(1) के तहत अभियुक्त गणों की अवैध संपत्ति को जिलाधिकारी द्वारा जब्त किये जाने का प्रावधान है.इसी क्रम में आज एसटीएफ की विवेचना टीम के द्वारा निम्नलिखित अभियुक्तगण के विरूद्ध उनकी सम्पत्ति के जब्तीकरण की कार्यवाही की गई. STF के मुताबिक अभियुक्त विपिन बिहारी के अपनी परिजनों के नाम से लखनऊ सीतापुर हाईवे से लगी हुयी 23 बीघा जमीन खरीदी. जिसका बाजारी मूल्य करीब 65 लाख रूपये हैं.वही एक प्लाट 650 वर्ग फीट का लखनऊ शहर में हैं. वही विभिन्न बैंकों में जमा किए रकम की जानकारी भी सामने आयी हैं.एसटीएफ द्वारा विवेचना में यह भी पता चला कि बिपिन बिहारी और उसके परिजनों के आय के नाम मात्र स्रोत पाये गये हैं.ऐसे में विवेचना के दौरान पाया गया कि अभियुक्त विपिन बिहारी द्वारा उपरोक्त सम्पत्ति वर्ष 2015-2016 के पश्चात् कमायी गयी है. यही कारण हैं अभियुक्त विपिन बिहारी की उपरोक्त संपत्ति और बैंक में जमा धनराषी जब्तीकरण के लिए एसटीएफ द्वारा कार्रवाई शुरू की गई हैं.

यह भी पढ़ें 👉  राजनीति: हरक के बाद, उमेश काऊ का इस्तीफा. BJP को दूसरा झटका. उत्तराखंड में मौसम सर्द, सियासत गर्म. कांग्रेस में कर सकते हैं घर वापसी…

24 गैंगस्टरों में से हाकम सहित 4 की संपत्ति हो चुकी कुर्क..

STF एसएसपी आयुष अग्रवाल के मुताबिक UKSSSC पेपर लीक मामले में एसटीएफ द्वारा इस गिरोह के 24 सदस्यों के विरूद्ध गैंगस्टर एक्ट में विवेचना जारी हैं.इस पड़ताल में अभियुक्तों की चल अचल सम्पत्ति को भी गैंगस्टर एक्ट के अन्तर्गत सीज करने की कार्यवाही भी की जा रही है.अभी तक इस गैंग के 07 सदस्यों हाकम सिंह, अंकित रमोला, चन्दन मनराल, जयजीत दास, मनोज जोशी, दीपक शर्मा एवं केन्द्रपाल की संपत्तियों का आंकलन कर जब्तिकरण की कार्यवाही के लिए जिलाधिकारी देहरादून को प्रेषित की जा चुकी हैं. हालांकि अभियुक्त चंदन मनराल, हाकम सिंह, अंकित रमोला और जय जीत दास की संपत्ति कुर्क की जा चुकी हैं. वही अन्य अभियुक्तों  के खिलाफ कुर्क की कार्यवाही प्रचलित है. वही अब इस गैंग के एक अन्य सदस्य विपिन बिहारी की भी सम्पत्ति का आंकलन पूरा कर रिपोर्ट DM प्रेषित की जा चुकी है. अनुमति मिलते ही आगे की कार्रवाई होगी.

यह भी पढ़ें 👉  मॉर्निंग वॉक के दौरान बुजुर्ग महिला से हुई जेवरात लूट का दून पुलिस ने किया..आरोपी सहित लूट का सोना खरीदने वाला ज्वेलर भी सलाखों के पीछे..

 पेपर लीक प्रकरण में सभी नकल माफियाओं की संपत्ति जब्त की कार्रवाई प्रचलित:STF 

एसटीएफ SSP आयुष अग्रवाल अग्रवाल के अनुसार इस केस में गैंगस्टर की विवेचना में राजेश कुमार चौहान, दीपक शर्मा, अंकित रमोला, शशिकांत, हाकम सिंह, केंद्रपाल, जयजीत,अभिषेक वर्मा, मनोज जोशी, मनोज जोशी, दीपक शर्मा, महेन्दर चैहान, हिमांशु कांडपाल, तनुज शर्मा, ललित राज, चन्दन मनराल, जगदीश गोस्वामी, बलवन्त रौतेला, कुलवीर, दिनेश जोशी, योगेश्वर राव, विपिन विहारी, गौरव नेगी एवं संजीव कुमार चैहान कुल 24 अभियुक्तों की सम्पत्ति की जॉच कर जब्तीकरण की कार्यवाही प्रचलित है.

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून: त्योहारी सीजन में मिलावटी खाद्य पदार्थों की रोकथाम को लेकर FDA की छापेमारी जारी..गोदाम में रखा 06 कुंतल पनीर आया संदेह के घेरे में..04 पनीर सेंपल सहित 06 मिल्क प्रोडक्ट जांच के लिए FSL भेजे गए..सस्ता पनीर डिमांड करने वाले होटल-रेस्तरांओं पर कार्यवाही कब ?..

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें