नकली दवा फैक्ट्री प्रकरण में दून पुलिस की दिल्ली में छापेमारी.20 लाख कीमत की लगभग डेढ लाख नकली टैबलेट्स व कैप्सूल्स जब्त..करोडों में नकली दवाइयों को खरीदने व सप्लाई करने से सम्बन्धित कम्पनियों के दस्तावेज बरामद….रैकेट में शामिल किसी भी अपराधी को बख्शा नहीं जायेगा: SSP- देहरादून..

देहरादून: हरिद्वार के रुड़की ग्रामीण क्षेत्र में बनने वाली नकली दवाओं के प्रकरण में अब देहरादून पुलिस ने दिल्ली में छापेमारी कर एक केमिस्ट गोदाम व दुकान से लगभग 20 लाख कीमत के डेढ़ लाख से अधिक नकली दवाइयां और कैप्सूल बरामद किए हैं. इतना ही नहीं नकली दवाइयों की सप्लाई करने वाले लोगों से संबंधित दस्तावेज भी कब्जे में लिए गए हैं.. बता दे कि पिछले दिनों देहरादून और हरिद्वार में छापेमारी की कार्रवाई कर नकली दावों को तैयार कर देश के कई राज्यों में सप्लाई करने वाले दो मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था. इस ख़ुलासे में जानकारी सामने आई थी कि गिरोह द्वारा देश के विभिन्न राज्यों में 44 ऐसे स्थानों हैं,जहां इन नकली दवाइयों की सप्लाई की गई हैं..ऐसे में देहरादून एसएसपी अजय सिंह के दिशानिर्देश पर इन सभी स्थानों को चिन्हित कर दून पुलिस की एक स्पेशल टीम प्रत्येक राज्य में जाकर नकली दवाओं की खेप को कब्ज़े में लेकर कानूनी कार्यवाही को अंजाम दे रही है..

नकली दवाओं के रैकेट में शामिल किसी भी अपराधी को बख्शा नहीं जाएगा: एसएसपी

 देहरादून एसएसपी अजय सिंह ने कहा कि बीमार लोगों की जिंदगी से खिलवाड़ करने वालों किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा..नकली दवा रैकेट के देश व्यापी नेटवर्क को ध्वस्त करते हुए प्रकरण की तह तक जाना पुलिस की प्रार्थमिकता है, अभियुक्तों द्वारा सप्लाई की गई नकली दवाओं को आम जन तक पहुंचने से रोकने तथा उक्त दवाइयों की बरामदगी के प्रयास किये जा रहे हैं… रैकेट में शामिल किसी भी अपराधी को बख्शा नहीं जाएगा.

यह भी पढ़ें 👉  वेब सीरीज देख लूट की घटना को दिया अंजाम..दून पुलिस ने 12 घंटे के अन्दर लुटेरों के मंसूबों को नाकाम कर बिहार से आये 02 शातिर बदमाशों को दबोचा..

दिल्ली में छापेमारी के दौरान नकली दवा खरीदने वाली कई कंपनियों का हुआ खुलासा..

  बता दें कि 14 अक्टूबर 2023 को थाना रायपुर पुलिस और एसओजी की संयुक्त टीम द्वारा जनपद देहरादून एवं हरिद्वार में नकली दवाओं की फैक्ट्री पर छापा मारते हुए भारी मात्रा में नकली दवाओं को बरामद किया गया था..नकली दवाओं के धंधे में लिप्त मुख्य अभियुक्त सचिन शर्मा की गिरफ्तारी की गई थी.. प्रकरण की जांच की दौरान अभियुक्त के बैंक खातों से लाखो रू- के बैंक ट्रांजेक्शन का होना और अभियुक्त द्वारा विगत 02 वर्षों में लगभग 07 करोड रू0 मूल्य की नकली दवाओं की खेप को देश के अलग-अलग राज्यों में लगभग 44 स्थानों पर सप्लाई किया जाना प्रकाश में आया था..ऐसे में अभियुक्त द्वारा अपनी कम्पनी एसएस मेडीकोज के माध्यम से जिन फर्माें को नकली दवाओं की सप्लाई की गई थी उनके सम्बन्ध में जानकारी एकत्रित की गई.इसके बाद पुलिस को सचिन शर्मा के नाम से रजिस्टर्ड फर्म एसएस मेडीकोज के द्वारा माह सितम्बर में दिल्ली की तीन कम्पनियो 01-  भारत मेडीकोज, 02- श्री बालाजी मेडीकोज तथा 03- आर0जी0फार्मा को लगभग 01 करोड 85 लाख रू0 की नकली दवाइयां सप्लाई किये जाने की जानकारी मिली.इसी जानकारी के आधार पर तत्काल देहरादून एसएसपी अजय सिंह द्वारा स्पेशल टीम का गठन कर उन्हें गैर राज्यों को रवाना किया गया.इसी क्रम में गठीत टीम द्वारा मुकदमा वादी व संबंधित अधिकारियों के साथ दिल्ली स्थित उक्त तीनों कम्पनियों में छापेमारी की कार्यवाही करते हुए नकली दवाओं की सप्लाई से सम्बन्धित दस्तावेज प्राप्त किये गये..इस दौरान श्री बालाजी फार्मा के मालिक नितिन अरोडा एवं आर.जे. फार्मा के मालिक रवि बर्नवाल से प्राप्त दस्तावेजों से एस.एस. मेडीकोज द्वारा श्री बालाजी फार्मा को लगभग 97 लाख रू- और आर.जे. फार्मा को लगभग 28 लाख रू- मूल्य की कीमत की नकली दवाइयां सप्लाई किया जाना ज्ञात हुआ.जिनको उनके द्वारा उत्तर प्रदेश,बिहार और दिल्ली में विभिन्न स्थानों पर विक्रय किये जाने की जानकारी मिली..वही एक अन्य कम्पनी भारत मेडीकोज दिल्ली में छापेमारी के दौरान उक्त कम्पनी के मालिक भरत अरोडा द्वारा सचिन शर्मा की कम्पनी एसएस मेडीकोज से लगभग 60 लाख रू- मूल्य की दवाइंया क्रय किये जाने से सम्बन्धित दस्तावेज उपलब्ध कराये गये..इनसे लगभग 40 रू-मूल्य की दवाइयों को भारत मेडीकोज द्वारा लखनऊ,दिल्ली, बनारस, सिलिगुडी व बिहार में अलग-अलग स्थानों पर बेचना पाया गया..शेष 20 लाख रू-मूल्य की नकली दवाइयों को पुलिस द्वारा उनके गोदाम से जब्त किया गया.. पूछताछ में तीनों कम्पनियों के मालिकों द्वारा उक्त दवाओं की खेप को सचिन शर्मा द्वारा Walter Bushnell Company तथा Jagson pal company  के नाम से विक्रय किया जाना बताया गया.ऐसे में इनको मौके पर नोटिस देकर बयान के लिए देहरादून बुलाया गया है..

यह भी पढ़ें 👉  क्राइम: ATM कार्ड बदलकर लोगों से ठगी करने वाले 4 आरोपी गिरफ्तार. मदद के नाम पर धोखे से बदल लेते थे एटीएम..

बरामदगी

1-  INDOCAP Capsules –  02 डब्बे (600 कैप्सूल)

2-  URISPAS 13 GB –  05 डब्बे ( 46,170 टेबलेट्स)

3-  DROTIN TABLETS –  224 डब्बे ( 1,00,800 टेबलेट्स)

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून एसएसपी एक और एक्शन : पशु क्रूरता अपराध में लिप्त गिरोह के 04 अभियुक्त गिरफ्तार..फ़रार अभियुक्तों की तलाश तेज़.. भारी मात्रा अवैध मांस सहित 06 जीवित पशु बरामद.. पशु क्रूरता बर्दाश्त नहीं ..अवैध मांस बिक्री करने वालों पर भी होगी कड़ी कार्यवाही: SSP

कंपनियों के नाम

1-  BHARAT MEDICOS BHGIRATH PALACE, DELHI, Central Delhi, Delhi, 110006 

2-  SHRI BALAJI MEDICOS 1ST FLOOR, 1716/11, MANGLE BUILDING, BHAGIRATH PALACE, North Delhi, Delhi, तथा 

3- R G PHARMA Ground Floor, Shop No.09 , Property No.1595, Shrinath ji Dawa Bazar, Bhagirath Palace, Chandni Chowk Area, New Delhi, Central Delhi,

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें