देहरादून रिलायंस ज्वैलरी लूट प्रकरण..डकैतों को वाहन उपलब्ध कराने वाले गैंग के मुख्य सदस्य को दून पुलिस ने यूपी से किया गिरफ्तार…गिरोह के बाकी सदस्यों की धरपकड के लिए अन्य राज्यों में पुलिस की दबिशें जारी…

गिरफ्तार मुख्य अभियुक्त अभिषेक से पूछताछ में पुलिस को उक्त गैग के सम्बन्ध में मिली थी जानकारी..

देहरादून के राजपुर रोड़ स्थित रिलायंस ज्वैलरी शोरुम लूट प्रकरण में डकैतों को चोरी के वाहन उपलब्ध करने वाले एक गैंग के  सदस्य को दून पुलिस ने उत्तर प्रदेश के अमरोहा से गिरफ्तार किया है..पुलिस के अनुसार गिरफ्तार अभियुक्त अकबर पुत्र ज़ाहिद ने ही देहरादून रिलायंस गोल्ड शोरूम में हुई डकैती में मुख्य अभियुक्त अभिषेक उर्फ गांधी को फ़रार होने में चोरी की मोटर साइकिल उपलब्ध कराई थी. दून पुलिस के अनुसार  गिरफ्तार मुख्य अभियुक्त अभिषेक उर्फ गाँधी से पूछताछ में पुलिस को घटना के लिए चोरी के वाहन उपलब्ध कराने गैंग के सम्बन्ध में जानकारी मिली थी.जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमों द्वारा लगातार अन्य प्रान्तो में दबिंशे दी जा रही थी.इस बीच पुलिस टीम द्वारा घटना में शामिल अभियुक्तों द्वारा प्रयोग किये गये वाहनों को  उपलब्ध कराने वाले गैंग के एक अभियुक्त अकबर पुत्र जाहिद निवासी फैयाज नगर,थाना सैद नागली, जिला अमरोहा,उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया गया हैं. 

यह भी पढ़ें 👉  Live देखिए देहरादून से प्रधानमंत्री मोदी का सम्बोधन ..https://youtu.be/PNe3XaX2fQk
बाईट-अजय सिंह,एसएसपी, देहरादून..

गिरफ्तार अकबर ही अलग-अलग स्थानों से गाड़ियां चोरी कर लुटेरों को मुहैया करता था..

पुलिस के अनुसार पूछताछ में गिरफ्तार अभियुक्त अकबर ने  बताया कि वह पूर्व में राजस्थान में कुरकुरे की टूयम ( TOOYUMM )  कंपनी में स्टोर कीपर का काम करता था.जहाँ उसके साथ अलीगढ निवासी सुमित भी काम करता था. अभियुक्त अकबर द्वारा सुमती नाम की लड़की से प्रेम विवाह कर इलाहाबाद हाईकोर्ट में शादी करी थी. बाद में सुमति की मां ने अकबर खिलाफ धारा 376/307 IPC का मुकदमा भिवाडी राजस्थान फेस 3 पुलिस स्टेशन में दर्ज कराया.पुलिस पूछताछ यह भी पता चला कि अकबर के साथ अकरम निवासी राजस्थान,सुमित निवासी अलीगढ़ और मुकेश निवासी राजस्थान शामिल थे..ये सभी लोग 8 महीनें किशनगढ़ जेल राजस्थान में रहे थे. जेल से बाहर आने के बाद अभियुक्त अकबर की पहचान सुजीत नाम के एक व्यक्ति से हुयी. जिसके द्वारा उसे किसी घटना के लिए 02 बाइक और एक कार की व्यवस्था करने को कहा गया,इसके एवज में अच्छी धनराशि मिलने की बात कही गई. अकबर द्वारा अपने साथी सुमित को इस बारे में बताते हुये अपने साथ ले लिया और योजना के मुताबिक अकबर और सुमित ने खन्दौली इन्टर चैंज आगरा से जून 2023 के प्रारम्भ में एक कार आर्टिगा UP16GT-7597 सफेद रंग को एक व्यक्ति से लूट ली, इस कार में उन्होने फर्जी नम्बर- CH 01 AH- 4177 की नम्बर प्लेट लगाकर बिजनौर में एक सुरक्षित जगह खडी कर दी.इस कार को बीच-बीच में सुमित इस्तेमाल करता रहता था..इसके बाद उनके द्वारा सितम्बर 2023 के मध्य में एक नीले रंग की अपाचे यू0पी072ए0जेड0-8285 नम्बर की आई0एम0टी0 मानेसर गेट के पास से तथा HR 26DA-7730 काली अपाचे स्टार मॉल गुडगाव से चोरी की गई ..इन बाइकों पर भी  यू0पी072ए0जेड0-8285 के स्थान पर यू0पी015सी0ए0-9683 व काले रंग वाली में HR 26DA-7730  पर यू0पी071वाई-1860 वाली फर्जी नम्बर प्लेटे लगा दी गई..अब दोनों बाइकों को लेकर अकबर और सुमित राजस्थान चले गये.और फिर सुजीत के कहने पर अकबर द्वारा 31 अक्टूबर 2023 को नीले रंग की अपाचे सहारनपुर में और 06 नवम्बर 2023 को आर्टिगा कार बिजनौर में,जबकि  07 नवम्बर 2023 को काली अपाचे मोटर साइकिल को  देहरादून ISBT में सुजित द्वारा बताये गये व्यक्तियों को सौप दी गई.. इसके एवज में सुजीत ने अकबर को 27000/- रू नगद दिये थे.जिसमें से 5000/- हजार रुपये सुमित को दिये गये थे..पुलिस के अनुसार गिरफ्तार अभियुक्त अकबर ने पूछताछ में यह भी बताय़ा कि जिन व्यक्तियों को उसके द्वारा वाहन सौपें गये थे उनमें से एक देहरादून रिलायंस गोल्ड शोरूम लूट का मुख्य आरोपी अभिषेक उर्फ गांधी था.

यह भी पढ़ें 👉  नकल घोटाला: भारत सरकार CSIR द्वारा आयोजित SO व ASO पद की ऑनलाइन परीक्षा केन्द्रो में दून पुलिस की छापेमारी…परीक्षा केन्द्रों में नकल करा रहे गिरोह के 04 सदस्य गिरफ्तार,02 अभियुक्त फ़रार,तलाश जारी..गिरफ्तार अभियुक्त अंकित के खिलाफ दिल्ली क्राइम ब्रांच में भी मुकदमा दर्ज..परीक्षा केंद्रों से नकल में प्रयोग इलेक्ट्रॉनिक उपकरण बरामद..

गिरफ्तार अभियुक्त –

अकबर पुत्र जाहिद निवासी फैयाज नगर थाना सैद नागली, जिला अमरोहा, उत्तर प्रदेश, उम्र 25 वर्ष .. 

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें