देहरादून:कालसी में हुए ब्लाइंड मर्डर का दून पुलिस ने किया खुलासा..कुछ ही पल में दो गहरे दोस्त कहासुनी के दौरान बन गए खून के प्यासे….फोन कॉल्स और CCTV फ़ुटेज से क़ातिल दोस्त तक पहुँची SOG पुलिस..

देहरादून:  वर्षो की गहरी दोस्ती कुछ ही पल में छिटाकसी जैसे शब्दों के चलते एक दूसरे को खून का प्यासा बना सकती हैं..जिहाँ ऐसा ही कुछ मामला देहरादून के थाना कालसी क्षेत्र से सामने आया हैं.यहाँ दो गहरे दोस्तों में खाने-पीने के दौरान एक दोस्त ने दूसरे को उसके महिला मित्र (भाभी)को लेकर कुछ ऐसी बात कह दी कि,दोनों दोस्त कुछ ही पल में जानी दुश्मन बन गए.और फिर देखते ही देखते एक दोस्त ने दूसरे दोस्त की गला घोंटकर हत्या कर दी..इतना ही नहीं हत्या की घटना को छुपाने के लिए हत्यारें दोस्त ने अपने मृतक दोस्त को बिजली के केबल से फंदा बनाकर पंखे से लटका दिया.ताकि मौत का कारण आत्महत्या लगे..पुलिस ने इस ब्लाइंड मर्डर केस को दोंनो दोस्तों के बीच मोबाइल से हुई अंतिम बातचीत और CCTV फ़ुटेज के आधार पर वर्कआउट करते हुए हत्यारें दोस्त को गिरफ्तार किया.

बाईट: अजय सिंह,एसएसपी, देहरादून..

भाभी के साथ सम्बन्धों के लेकर दोस्त की टिका-टिप्पणी हत्या की वजह

पुलिस ख़ुलासे के अनुसार कालसी में दोनों दोस्त एक फार्म हाउस में बैठकर शराब पी रहे थे.खाने-पीने के दौरान मृतक दोस्त से अपने सामने बैठे दोस्त को उसकी भाभी के साथ सम्बन्धों को लेकर ऐसी  बात कह दी,जिसे सुनकर आग बबूला हुए दोस्त ने अपने जिगरी दोस्त पहले बेहोश होने तक जमकर पिटा.और फिर बेहोशी की हालत में बिजली के केबल से गला घोंटकर हत्या कर दी.फिर उसके बाद मृतक को उसी केबल की तार से फाँसी का फंदा बनाकर पंखे में लटका दिया.ताकि मौत का कारण आत्महत्या प्रतीत हो..

यह भी पढ़ें 👉  ड्रंक एंड ड्राइव 'मर्डर' केस में वाहन चालक को 5 साल की कठोर सज़ा..

अभियुक्त ने मृतक की हत्या कर शव को पंखे से टांगकर हत्या को आत्महत्या का रूप देने का किया गया था प्रयास..

पुलिस ख़ुलासे के अनुसार शिकायत कर्ता अक्षय भट्ट पुत्र खुशीरम भट्ट निवासी ग्राम जोखला द्वारा थाना कालसी को सूचना दी कि,अमलावा नदी के किनारे स्थित फार्म हाउस के अन्दर एक व्यक्ति का शव लटका हुआ है.. उक्त सूचना पर थाना कालसी से पुलिस तत्काल घटना स्थल पर पहुँची मौके पर मृतक की पहचान संदीप उर्फ माघू निवासी ग्राम डिण्डाल, हाल निवासी हरिपुर कालसी के रूप में हुई.. घटना संदिग्ध प्रतीत होने पर तत्काल मृतक के परिजनों को सूचित करते हुए फील्ड यूनिट की टीम को मौके पर बुलाया गया.. मौके पर फोटो व विडियोग्राफी करते हुए आवश्यक साक्ष्य संकलन की कार्यवाही की गयी.. घटना के सम्बन्ध में मृतक की हत्या किये जाने के सम्बन्ध में परिजनो द्वारा दी गयी तहरीर के आधार पर थाना कालसी पर धारा: 302 IPC बनाम अज्ञात का मुकदमा पंजीकृत किया गया..थाना कालसी और दून SOG टीम द्वारा घटना स्थल व उसके आस-पास के क्षेत्रों के लगभग 25 सीसीटीवी कैमरों का अवलोकन किया गया.वही सर्विलांस के माध्यम से भी संदिग्ध व्यक्तियों के सम्बन्ध में जानकारियां प्राप्त की गई. सीसीटीवी फुटेज के जांच-पड़ताल से पुलिस को घटना से पूर्व मृतक के एक दोस्त का स्कूटी में जूते पहनकर जाना और वापसी में नंगे पांव वापस आना प्रकाश में आया..ऐसे में संदिग्धता प्रतीत होने पर पुलिस द्वारा मृतक के दोस्त शिव सिह राणा को जिसके पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया. सख्ती से पूछताछ करने पर उसके द्वारा मृतक की हत्या कर शव को पंखे पर टांगना स्वीकार किया गया.ऐसे में अभियुक्त को मौके से गिरफ्तार  न्यायालय के समक्ष पेश किया गया.जहाँ से न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है..

यह भी पढ़ें 👉  विरोध: प्रधानमंत्री मोदी के उत्तराखंड दौरे को कांग्रेस ने बताया निराशाजनक ।गाँधीपार्क में दिया धरना। हरीश रावत ,गणेश गोदियाल सहित कई कांग्रेसी कार्यकर्ताओं का मौनव्रत..

पूछताछ में खुला हत्या का वजह..

 पुलिस अनुसार पूछताछ में हत्यारोपी अभियुक्त शिव सिंह राणा द्वारा बताया कि मृतक उसका दोस्त था.लेकिन वह अक्सर अभियुक्त और उसकी भाभी के सम्बन्धों के विषय में लोगों के सामने टीका-टिप्पणी करता रहता था.इसी कारण पूर्व में भी उनका विवाद हुआ था. घटना के दिन भी मृतक अभियुक्त को अमलावा नदी के किनारे स्थित फार्म हाउस पर मिला.इस दौरान मृतक द्वारा पुन: अभियुक्त व उसकी भाभी को लेकर टीका टिप्पणी की गई,जिस पर उनका आपस में विवाद हो गया.ऐसे से अभियुक्त द्वारा मृतक के साथ मार-पीट कर पहले उसे बेहोश कर दिया.फिर उसले बाद उसके बाद मृतक के गले में फंदा लगाकर उसे पंखे से टांग दिया.. घटना को अंजाम देने के बाद अभियुक्त द्वारा फार्म हाउस के गेट के बाहर ताला लगा दिया.और गेट के बगल वाली जाली को पत्थर से काट दिया,जिससे हत्या को आत्महत्या का रूप दिया जा सके..इतना ही नहीं मृतक से मारपीट के दौरान अभियुक्त के जूते मृतक के खून से सन गये थे.जिन्हें अभियुक्त द्वारा अमलावा नदी में धोने के बाद नदी किनारे ही छुपा कर रख दिया था.इस सबूत को पुलिस ने अभियुक्त की निशानदेही पर बरामद किया..

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून: स्ट्रीट क्राइम की घटना का 12 घंटे के अंदर दून पुलिस ने किया खुलासा.. घटना को अंजाम देने वाले शातिर अभियुक्त को धरदबोचा..लूट का सामान भी बरामद..

गिरफ्तार हत्यारोपी अभियुक्त-

शिव सिह राणा पुत्र लाल सिह राणा निवासी- ग्राम हरिपुर थाना कालसी जनपद देहरादून.. उम्र-30 वर्ष.

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें