पटवारी JE/AE पेपर लीक प्रकरण का मुख्य षड़यन्त्रकर्ता संजय धारीवाल SIT के गिरफ्त में,लाखों रुपए ब्लैंक चैक और वाहन बरामद.

हरिद्वार:पटवारी-लेखपाल सहित JE/AE पेपर लीक मामले में वांटेड चल रहे मुख्य षड्यंत्रकारी संजय धारीवाल को SIT ने नारसन बॉर्डर क्षेत्र  से गिरफ्तार किया हैं.लगातार फरार रहकर जमानत की जोड़तोड़ कर रहे वांछित संजय धारीवाल की गिरफ्तारी को लेकर 50 हजार का इनाम घोषित था..SITटीम ने गिरफ्तार अभियुक्त के भाई के मकान (करनाल-हरियाणा) से 4 लाख 25 हजार का कैश और 02 ब्लैंक चैक भी बरामद किये है..अभियुक्त के कब्जे घटना में प्रयुक्त वाहन भी बरामद किया गया हैं.SIT के शिकंजे में आया इनामी अभियुक्त संजय धारीवाल पुत्र सुरेन्द्र सिंह जनपद हरिद्वार के अंतर्गत कोतवाली मंगलौर क्षेत्र के मौहम्मदपुर जट का रहने वाला हैं.

बता दें कि पटवारी और JE/AE पेपर लीक प्रकरण अब तक 38 अभियुक्त गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुके हैं.हालांकि अभी इस प्रकरण में विवेचना जारी है.

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर: देर रात पुलिस मुठभेड़ में मेरठ के कुख्यात बदमाश घायल..SSP स्वयं घटनास्थल पर रहे मौजूद......बड़ी वारदात की फिराक में मेरठ से देहरादून आ रहा था बदमाश..

गिरफ्तार अभियुक्त: –

संजय धारीवाल पुत्र सुरेन्द्र सिहं, निवासी मौहम्मदपुर जट,कोतवाली मंगलौर,जिला हरिद्वार..

गिरफ्तारी में स्टे लेकर सरेंडर करने की फिराक में था संजय:SIT

एसआईटी के मुताबिक गिरफ्तार इनामी संजय धारीवाल ने अपने गिरोह के साथ मिलकर पटवारी/लेखपाल एवं JE/AE भर्ती में अभ्यर्थियों को पेपर लीक कर लाखों रुपए व ब्लैंक चैक उनसे वसूल चुका हैं.मुकदमा दर्ज होने के बाद से संजय अपनी गिरफ्तारी से बचने और अरेस्टिंग को स्थगित करा सरेंडर करने के प्रयास कर रहा था. ऐसे में SIT फरार अभियुक्त को सलाखों के पीछे पहुंचाने के लिए लगातार दबिश दे रही थी.उसी क्रम में मुखबिर की सटीक सूचना पर संजय धारीवाल को शनिवार नारसन बॉर्डर इलाकें से गिरफ्तार किया.

यह भी पढ़ें 👉  ठगी: चारधाम यात्रा के लिए हैदराबाद निवासी श्रद्धालुओं से रजिस्ट्रेशन व होटल बुकिंग के नाम पर लाखों की धोखाधड़ी.. देहरादून SSP ने स्वयं संज्ञान लेकर आरोपित ट्रैवल एजेंसी पर मुकदमा दर्ज कर पीड़ित श्रद्धालुओं के लिए चारधाम यात्रा का पूर्ण प्रबंध किया.. श्रद्धालु बोले- धन्यवाद धामी सरकार..

पेपर लीक में प्रयुक्त वाहन,लाखों रुपये और ब्लैंक चेक भी बरामद:SIT 

 SIT के मुताबिक अभियुक्त संजय धारीवाल की निशांदेही पर अभ्यर्थियों को नकल स्थलों तक लाने व परीक्षा केन्द्रों तक ले जाने में प्रयुक्त वाहन HR 75–5692 को उसके निवास मौहम्मदपुर जट (हरिद्वार) से बरामद किया गया हैं. इतना ही नहीं अभियुक्त संजय के भाई सुधीर के करनाल (हरियाणा) स्थित मकान से कुल 425000/- (चार लाख पच्चीस हजार रुपये) व दो ब्लैंक (हस्ताक्षरित) चैक भी बरामद किये गए है.SIT जांच में पता चला कि अभियुक्त द्वारा उक्त धनराशि में से एक लाख दस हजार रुपये पटवारी भर्ती और तीन लाख पन्द्रह हजार रुपये के अलावा दोनों चैक एई /जेई भर्ती से सम्बन्धित छात्रो से लिए गए थे.

यह भी पढ़ें 👉  *क्या राजनीति करते करते, खुद हो गए राजनीति का शिकार* मुश्किल होती हरक की राह, कांग्रेस में फिलहाल नो एंट्री. घर वापसी को लेकर फंसा पेंच…

पूर्व में गिरफ्तार कोचिंग सेंटर संचालक अभियुक्त संजय का रिश्तेदार..

SIT के अनुसार दर्ज मुकदमा की विवेचना के दौरान पूर्व में ही अभियुक्त को प्रश्रय देने पर भाई सुधीर व बहन के जमाई दीपेन्द्र पंवार उर्फ सोनू पुत्र ऋषिपाल सिंह निवासी मुकन्दरपुर थाना गदरपुर जिला उधम सिंह नगर (कोचिंग संचालक) को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है. 

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें