आक्रोश: नए साल पर बिजली कर्मचारी न दे दे झटका. कही अंधेरे में न हो नए साल का जश्न. कर्मचारी नाराज ,हड़ताल की चेतावनी.. *ये है प्रमुख मांगें*

देहरादून

सीएम धामी की अध्यक्षता में हुई बैठक के बाद भी अभी तक ऊर्जा कर्मियों की मांगों पर कोई निर्णय न लिये जाने से ऊर्जा कर्मचारी नाराज हैं। ऐसे में एक बार फिर तीनों निगमों ने हड़ताल पर जाने की चेतावनी दे दी है। विद्युत अधिकारी कर्मचारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा ने 14 सूत्रीय मांगों को लेकर ये फैसला लिया. ऊर्जा निगमों के कर्मचारी 31 दिसंबर से हड़ताल शुरू कर देंगे. सरकार व शासन को मांगों पर आदेश जारी करने के लिए 30 दिसंबर तक का समय था. मोर्चा ने तीनों निगमों को आंदोलन का नोटिस भेजा दिया है.
ये है प्रमुख मांगें

यह भी पढ़ें 👉  ड्यूटी के दौरान अदम्य साहस दिखा 6 जिंदगियाँ बचाने वाले उत्तराखंड के दो कांस्टेबल को प्रधानमंत्री जीवन रक्षा पुलिस पदक..

ऊर्जा निगमों में पुरानी एसीपी व्यवस्था को लागू करना।
तीनों निगमों में उपनल संविदा कर्मियों को नियमित करने व नियमितीकरण तक न्यायालय के आदेश के अनुरूप समान कार्य समान वेतन देने।
समझौते के अनुरूप अवर अभियंता संवर्ग को ग्रेड पे में शासन के अनुरूप एक जनवरी 2009 से 4600 ग्रेड वेतन देना।
तीनों ऊर्जा निगम में हुए भत्तों के रिवीजन में कर्मचारियों को हुए नुकसान पर उचित कार्रवाई करने।

यह भी पढ़ें 👉  Good News: उत्तराखंड पुलिस के लिए गौरव का पल….डाटा सिक्योरिटी काउंसिल आफ इंडिया ने STF (साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन देहरादून) को भारत के टॉप 3 साइबर इकाइयों में से एक घोषित किया गया..

उत्तराखंड पावर कारपोरेशन में तकनीशियन से अवर अभियंता के पद पर 10 वर्षों से लंबित पदोन्नति प्रक्रिया पूरी करने।

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें