51 लाख क़ीमत की स्मैक के साथ दम्पति गिरफ्तार.. बरेली से तस्करी कर देहरादून ड्रग्स पैडलर को देनी थी सप्लाई.. 

देहरादून: थाना सहसपुर पुलिस ने एक ऐसे नशा तस्करी में लिप्त दंपति को गिरफ्तार किया है,जिनके कब्जे से 510 ग्राम कमर्शियल क्वांटिटी में स्मैक बरामद की गई हैं. पकड़ी गई स्मैक की बाजार में क़ीमत 51 लाख रुपये आंकी गई है. इतनी भारी मात्रा में लंबे समय बाद ही स्मैक पकड़ी गई हैं. पुलिस के अनुसार नशा तस्कर अशरफ़ और उसकी पत्नी साबदा सहारनपुर के मिर्जापुर इलाके से तस्करी कर सेंट्रो कार (यू0ए0-07-पी-7500) में सवार होकर सहसपुर के ग्राम कुंजा इलाकें में किसी ड्रग्स पैडलर को सप्लाई देने आ रहे थे.तभी मंगलवार तड़के धर्मावाला तिमली चेकपोस्ट पर चैकिंग के दौरान संदिग्ध अवस्था में नजर आने वाले इन दम्पति की तलाशी ली गई. चेकिंग के दौरान पति-पत्नी के कब्जे से 510 ग्राम क़ीमती स्मैक बरामद की गई.ऐसे में कमर्शियल क्वांटिटी में बरामद इस स्मैक की कीमत 51 लाख से अधिक आंकी गई है..गिरफ्तार कर जेल भेजे दम्पति के पुराने अपराधिक इतिहास के अनुसार दोनों से इससे पहले भी 2017 और 2021 में चरस और स्मैक तस्करी आरोप में  थाना सहसपुर एवं प्रेमनगर से दो बार जेल जा चुके हैं.

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून में 05 इंस्पेक्टरों के ताबड़तोड़ तबादले.. मुकेश त्यागी डोईवाला तो राकेश गुसाईं नए शहर कोतवाल ..

नशा तस्करी में गिरफ्तार दम्पति

1- अशरफ पुत्र रुस्तम निवासी मिर्जापुर थाना मिर्जापुर जनपद सहारनपुर, उत्तर प्रदेश उम्र 31 वर्ष.

2- साबदा पत्नी अशरफ निवासी उपरोक्त उम्र 24 वर्ष.

पेंटिंग काम छोड़ बड़े लालच में नशा तस्करी में आये दम्पति..

51लाख क़ीमत की स्मैक के साथ गिरफ्तार दंपति अशरफ और साबदा ने पुलिस पूछताछ में बताया कि वह लोग सहारनपुर के मिर्जापुर में निवास कर वहाँ काफ़ी समय से घरों रंग रोगन (पेंटिंग) मजदूरी का काम करते थे.ऐसे में कुछ वर्ष पहले मिर्जापुर में ही उनकी पहचान एक व्यक्ति से हुई जो स्मैक तस्करी का पहले से काम करता था.उसके सम्पर्क में आने के बाद पेंटिंग में मजदूरी का काम छोड़ जल्दी से ज्यादा पैसा कमाने के लालच में दोनों दम्पति नशा तस्करी के धंधे में पड़ गए.इसके बाद अशरफ़ स्मैक तस्करी में पहले से लिप्त अपने मिर्जापुर साथी के साथ मिलकर बरेली (यूपी)से कम दामों में नशे की खेप लाकर देहरादून के अलग-अलग इलाकों में ऊंचे दामों पर सप्लाई देने लगे.अशरफ के अनुसार इस धंधे से उन्हें काफी मोटा मुनाफा हो जाता हैं. पुलिस पूछताछ में नशा तस्कर अशरफ ने यह भी बताया कि ड्रग्स तस्करी के समय किसी को शक ना हो इसी वजह से वह अपनी पत्नी को हमेशा सप्लाई के वक्त साथ रखता हैं.

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून: चर्चित फर्जी रजिस्ट्री घोटाले मामले में एक और रिकॉर्ड कर्मचारी सहित 02 अभियुक्त गिरफ्तार..अभी बड़ी महत्वपूर्ण गिरफ्तारियां बाकी !..

देहरादून सहित बरेली ड्रग्स तस्करों के बारे में मिली जानकारी..

नशा तस्कर अशरफ से पूछताछ के दौरान पुलिस को मिर्जापुर एवं बरेली के कुछ बडे नशा तस्करों सहित देहरादून (सहसपुर) कुंजा ग्रांट के स्थानीय ड्रग पैडलर्स के सम्बन्धं में महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई है.ऐसे में अब पुलिस इन ड्रग्स तस्करों को चिन्हित कर आगामी दिनों में उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की तैयारी में है.

यह भी पढ़ें 👉  जब हरियाणा पर्यटक की कार मसूरी-किमाड़ी रोड में आग का गोला बनी..देखें वीडियो
बाइट:दलीप सिंह कुँवर, DIG, देहरादून

खबर सनसनी डेस्क

उत्तराखण्ड की ताज़ा खबरों के लिए जुड़े रहिए खबर सनसनी के संग। www.khabarsansani.com

सम्बंधित खबरें